हल्द्वानी – बिंदुखत्ता की ज्योति का सीनियर क्रिकेट टीम में चयन,हर किसी को याद है 97 रनों की पारी

हल्द्वानी: बेटियों को उनके अधिकार दिए जाएं तो समाज तरक्की की गाड़ी पर हमेशा सवार रहता है। किसी भी क्षेत्र का उदाहरण उठा कर देख लीजिए, मौका मिलने पर हमेशा बेटियों ने घर-परिवार और निवास क्षेत्र का नाम रौशन ही किया है। नैनीताल जिले से भी बेटियां एक से बढ़कर एक सफलता हासिल कर रही हैं। इस लिस्ट में हल्द्वानी बिंदुखत्ता की ज्योति गिरी का नाम लेना बेहद जरूरी है। बेटी का चयन एक बार फिर से उत्तराखंड महिला सीनियर टीम में हो गया है।

सीनियर महिला वनडे ट्रॉफी के लिए उत्तराखंड टीम का चयन हो गया है। इसमें बिंदुखत्ता की ज्योति गिरी के अलावा नैनीताल से दिव्या बोहरा,अंजलि गोस्वामी, तारा बिष्ट,ज्योति गिरी ने बनाई टीम में जगह बनाई है। उत्तराखंड का पहला मैच 31 अक्टूबर को मुंबई के खिलाफ होना है। गौरतलब है कि महिला अंडर-19 टीम के अच्छे प्रदर्शन के बाद अब सभी की निगाहें सीनियर टीम पर टिकी हैं। साथ ही ज्योति गिरी पर भी हर किसी का फोकस रहने वाला है।

गौरतलब है कि ज्योति गिरी ने एक ग्रामीण क्षेत्र से निकलकर समय-समय पर उत्तराखंड को गौरव के पल दिए हैं। हाल ही में उत्तराखंड ने भारतीय घरेलू क्रिकेट में पहली ट्रॉफी अपनी नाम की तो उसमें ज्योति का योगदान भुलाया नहीं जा सकता है। ज्योति ने फाइनल मुकाबले में मध्य प्रदेश के गेंदबाजों को थका-थका कर हराया।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड चार धाम की यात्रा मार्ग में तैनात की गई 200 एंबुलेंस

बता दें कि उत्तराखंड क्रिकेट टीम अंडर-19 वनडे ट्रॉफी के फाइनल में तब जूझ रही थी जब 103 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए उनके दो विकेट जल्दी गिर गए थे। मगर इसके बाद ज्योति (26) और नीलम (56) ने शानदार 84 रनों की साझेदारी कर टीम को मैच जिताया। ज्योति ने 102 गेंदें खेलकर नाबाद 26 रन बनाए। इन रनों की कीमत कोई भी क्रिकेट प्रेमी आसानी से बता सकता है। गौरतलब है कोई भी एक विकेट मैच को विपक्षी टीम के पक्ष में धकेल सकता था।

ज्योति गिरी के बारे में बात करें और उनकी फेमस 97 रनों की पारी भूल जाए तो गलत होगा। दरअसल ज्योति साल 2019 सीजन में ज्योति अंडर-23 टीम की सदस्य रही थी। वनडे में वह सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाजों की सूची में शामिल थी। इसके बाद साल 2020 सीजन में उन्होंने सीनियर महिला टीम के लिए खेलते हुए असम के खिलाफ शानदार 97 रनों की पारी खेली थी। जिसे सर्वश्रेष्ठ पारियों में गिना जाता है।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड- दिल्ली से देहरादून में ढाई घंटे में पहुंचेंगे यात्री ऐसे चल रहा है एक्सप्रेस-वे का काम

दरअसल मार्च में Womens Senior One Day Trophy में ज्योति गिरी ने असम के खिलाफ गजब 97 रनों की पारी खेली थी। जिसके बलबूते उत्तराखंड ने दो गेंद और 4 विकेट शेष रहते मुकाबले को अपने नाम कर लिया। ज्योति गिरी ने सर्वाधिक 97 रन बनाए, जिसमें 12 चौके शामिल थे। गौरतलब है कि पहले बल्लेबाजी करने उतरी असम की टीम ने 48.5 ओवर में 211 रन बनाए।

इसके अलावा महिला अंडर 23 एक दिवसीय ट्रॉफी में जब उत्तराखंड ने सौराष्ट्र को 96 रनों से करारी शिख्स्त दी है। तो ज्योति ने 64 रनों की धमाकेधार पारी से टीम को जिताया था। बता दें कि इस मैच में ज्योति को मंकड आउट किया गया था। जो कि चर्चा का विषय भी बन गया था। इस टूर्नामेंट में 6 मुकाबलों में से उत्तराखंड ने 4 में जीत हासिल की। ज्योति के बल्ले से 3 फिफ्टी निकली। ज्योति ने 6 पारियों में कुल 275 रन बनाए थे।

यह भी पढ़ें 👉  Big Breaking- प्रधानमंत्री मोदी से मिले सीएम धामी, राज्य के विकास को लेकर इन मुद्दों पर हुई चर्चा

गौरतलब है कि बिंदुखत्ता ग्रामीण क्षेत्र से निकलकर ज्योति आज उत्तराखंड का नाम पूरे देश में रौशन कर रही है। अंडर-19 से लेकर उत्तराखंड की सीनियर टीम में भी ज्योति ने कई बार अपनी मौजूदगी का एहसास क्रिकेट जगत को कराया है। नैनीताल जिले और खासकर, हल्द्वानी व बिंदुखत्ता को उम्मीद है कि आने वाले समय में ज्योति और दमदार पारियां खेलकर भारतीय टीम के लिए अपनी दावेदारी मजबूत करेगी।

उत्तराखंड का शेड्यूल
पहला मैच – 31 अक्टूबर को मुंबई के खिलाफ

दूसरा मैच – 1 नवंबर रेलवे के खिलाफ

तीसरा मैच – 3 नवंबर चंडीगढ़ के खिलाफ

चौथा मैच – 4 नवंबर उड़ीसा के खिलाफ

पांचवा मैच – 6 नवंबर तमिलनाडु के खिलाफ