उत्तराखंड: विदेश में छाया देवभूमि का लाल , सबको किया गौरवान्वित!

Uttarakhand News: उत्तराखंड के हुनर से यूं तो हम सभी परिचित हैं, पर कई बार इस देवभूमि से ऐसे युवा उभर कर आते हैं जो अपने हुनर से हम सब को चौंका देते हैं। रुद्रपुर के मनोज सरकार भी एक ऐसे ही युवा है।
ऑस्ट्रेलिया में दो से छः अक्टूबर तक चले पेरिस पैरालंपिक खेलों में मनोज सरकार ने पैरा बैडमिंटन इंटरनेशनल टूर्नामेंट में दो पदक अपने नाम कर विश्व भर में अपना लोहा मनवाया है।

ऑस्ट्रेलिया पैरा बैडमिंटन इंटरनेशनल टूर्नामेंट के युगल वर्ग के फाइनल मुकाबले में मनोज सरकार और दीप रंजन की जोड़ी ने नेहल गुप्ता और नवीन शिवकुमार को 21–13, 21–7 के स्कोर से हराकर स्वर्ण पदक जीता। वहीं दूसरी तरफ एकल वर्ग की एसएल –3 श्रेणी का फाइनल मुकाबला खेलते हुए मनोज ने रजत पदक भी अपने नाम कर लिया।

1 साल की उम्र में गलत चिकित्सा उपचार के कारण पीआर लोअर लिंब की बीमारी से पीड़ित, मनोज सरकार भारत के पैरा बैडमिंटन खिलाड़ी हैं। 50 से भी ज्यादा अंतरराष्ट्रीय पदक अपने नाम करने वाले वह उत्तराखंड के एकमात्र अर्जुन अवार्डी और पैरालंपियन कांस्य पदक विजेता हैं। मनोज ने अंतरराष्ट्रीय सर्किट में कई पुरस्कार जीते हैं, जिनमें थाईलैंड पैरा बैडमिंटन इंटरनेशनल 2017 में पुरुष एकल में रजत, युगांडा पैरा बैडमिंटन इंटरनेशनल 2017 में स्वर्ण, आयरिश पैरा बैडमिंटन इंटरनेशनल 2016 में रजत पदक, बीडब्ल्यूएफ बैडमिंटन विश्व चैंपियनशिप 2015 में पुरुष युगल स्पर्धा में स्वर्ण पदक और टोक्यो पैरालंपिक में कांस्य पदक मुख्य है।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड ने रचा इतिहास, T20 ट्रॉफी के फाइनल में पहुंची टीम

ऑस्ट्रेलिया के पैरालंपिक के दौरान उत्तराखंड से मनोज के साथ चयनित अन्य दो खिलाड़ी अब चीन के एशियन गेम्स में शिरकत करेंगे। लखनऊ में एशियन गेम्स का प्रशिक्षण लेकर जल्द ही तीनों खिलाड़ी चीन के लिए रवाना हो जाएंगे।