उत्तराखंड: आ गए चुनाव आयोग के नियम! जानिए आप भी की क्या है ये नियम!

16 मार्च 2024 दोपहर 3 बजे कल चुनाव आयोग ने 2024 के चुनावी रण का शंखनाद कर दिया है। कल चुनाव आयोग ने देश में 18 साल के मतदाता से लेकर 100 साल से ज़्यादा आयु के मतदाताओं के बारे में भी लोकतांत्रिक गर्व के साथ जानकारी दी है। चुनाव आयोग ने बताया कि 97 करोड़ वोटर्स वाले हमारे देश में 55 लाख EVMs से 7 चरणों में 2024 के लोकसभा चुनाव सफलतापूर्वक कराए जाएंगे। इन 97 करोड़ मतदाताओं में से 1.89 करोड़ मतदाता पहली बार अपने मताधिकार का उपयोग करेंगे। इन 1.89 करोड़ मतदाताओं में से 85 लाख मतदाता पहली बार मतदान करने वाली महिलाएं हैं और 97 करोड़ मतदाताओं में से 2.5 लाख मतदाता ऐसे हैं जिनकी उम्र 100 साल से ज़यादा है। इन 97 करोड़ पंजीकृत मतदाताओं में से 47.1 करोड़ मतदाता महिलाएं हैं।

चुनाव आयोग ने पोलिंग बूथों पर 1.5 करोड़ सुरक्षा कर्मियों की तैनाती करने की बात कही है। चुनाव आयोग विभिन्न प्रकार की सुविधाएं देने जा रहा है जिससे हर मतदाता अपने वोट का उपयोग कर सके। चुनाव आयोग ने अपनी प्रेस कांफ्रेंस में बताया कि जो मतदाता 85 साल से अधिक आयु के हैं उनके लिए एक विकल्प है कि वो अपने घर से भी मतदान कर सकते हैं। चुनाव की तारीखों की घोषणा होने के बाद चुनावी बयानों पर ख़ासा नज़र बनी रहती है। चुनावी बयानों में चाय से लेकर चाचा सबको भाँती-भाँती की मंशाओं से याद किया जाता है, कहीं पकोड़ा तला जाता है तो कहीं सोना निकाला जाता है। इसी प्रकार की टीका टिप्पणियों से सभी राजनीतिक दलों को बचकर रहने का सुझाव चुनाव आयोग ने दिया है। चुनावी बयानों पर चुनाव आयोग ने कुछ कहने से पहले इस लोकसभा चुनाव में उनकी निगरानी में रहने वाले 4 M के बारे में बताया। इन 4 M पर चुनाव आयोग की सारी नज़रें टिकी होने की बात खुद मुख्य चुनाव आयुक्त राजीव कुमार ने कही है।

क्या हैं ये 4 M?

यह भी पढ़ें 👉  देहरादून-(बड़ी खबर) इस दिन बंद होंगे बद्रीनाथ धाम के कपाट

1) Muscle (ताकत) :- बलपूर्वक चुनाव में बाधा डालने के लिए किए जाने वाले प्रयासों को निरस्त करने के लिए चुनाव आयोग की रूपरेखा। मुख्य चुनाव आयुक्त ने आदतन अपराधियों पर ख़ास नज़र बनाए रखने की बात कही, डीएम को सख्त दिशानिर्देश देने के साथ डबल वोटिंग करने वाले लोगों पर नियंत्रण बनाने के लिए कण्ट्रोल रूम बनाए जा रहे हैं यह जानकारी भी इस प्रेस वार्ता के साथ साझा की गई।

यह भी पढ़ें 👉  अब ऐसे होगा योग्य विद्यार्थियों का सुयाल बाड़ी नवोदय में पढ़ने का सपना साकार

2) Money (पैसा):- चुनाव आयोग ने 3400 करोड़ रूपए प्रतिबंधित करने की बात कही है। इनकम टैक्स, डिजिटल पेमेंट्स पर भी नज़र बनाइ जा रही है ताकि पैसे के इस्तेमाल से कोई भी मतदाताओं को लुभाकर अपनी तरफ करने की कोशिश ना करे।

यह भी पढ़ें 👉  Uttarakhand: यहां बरामद हुए लाखों रुपए! जांच पड़ताल में जुटी पुलिस!

3) Misinformation (भ्रांतियां):- सोशल मीडिया पर झूठी भ्रान्ति/अफवाह फैलाने वालो को चुनाव आयोग ने अपनी इस घोषणा से चेतावनी दी है। सभी सोशल मीडिया उपभोक्ताओं से चुनाव आयोग ने निवेदन किया है कि सोशल मीडिया पर किसी भी खबर या बात पर विश्वास करने या उसे किसी और को भेजने से पहले उसे सुनिश्चित कर लें।

4) MCC (आदर्श आचार संहिता):- सभी उम्मीदवारों से चुनाव आयोग ने लोकसभा चुनाव प्रचार के दौरान हेट स्पीच, आपत्तिजनक बयानबाज़ी या टिप्पणियों से बचने की बात कही है। कई मीडिया संस्थानों को चुनाव आयोग ने 2024 लोकसभा चुनाव के लिए सख्त दिशानिर्देश दे दिए हैं।