उत्तराखंड:मिस यूनिवर्स का खिताब जीतने वाली हरनाज़ संधू की सफ़लता का कनेक्शन है ऋषिकेश से, जानिए कैसे

ऋषिकेश: भारत की बेटी ने पूरे संसार में देश का नाम रौशन किया है। चंडीगढ़ की हरनाज़ संधू (Harnaaz Sandhu) को मिस यूनिवर्स 2021 चुना गया है। बता दें कि 21 साल बाद भारत की प्रतिभागी ने यह उपलब्धि अपने नाम की है। लेकिन क्या आप जानते हैं हरनाज संधू का उत्तराखंड से भी कनेक्शन है। यह खास कनेक्शन ऋषिकेश (Rishikesh) से है, जिसके बारे में हम आपको आगे बताएंगे।

पहले आपको बता दें कि 70वां मिस यूनिवर्स पेजेंट (Miss Universe) इस साल 12 दिसंबर को इजराइल में हुआ। इस प्रतियोगिता में 75 से ज्यादा खूबसूरत और प्रतिभाशाली महिलाओं ने भाग लिया था, लेकिन टॉप 3 में तीन देशों की महिलाओं ने जगह बनाई इसमें से एक भारत की हरनाज संधू भी रहीं। साउथ अफ्रीका और पैराग्वे (South Africa & Paraguay) को पीछे छोड़ते हुए संधू ने ब्रह्माण्ड सुंदरी का ताज पहना है।

हरनाज संधू मिस यूनिवर्स बनने वाली भारत की तीसरी महिला हैं। इनसे पहले साल 1994 में सुष्मिता सेन (Sushmita Sen) ने भारत का प्रतिनिधित्व किया था, वह उन्होंने इस ताज को हासिल किया था। वहीं, साल 2000 में लारा दत्ता (Lara Dutta) ने इस ताज पर अपना नाम दर्ज किया था। इस हिसाब से पूरे 21 साल बाद भारत को यह गौरव मिला है।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड: विदेशी धरती पे live show करते नज़र आये पहाड़ के पवनदीप साथ ही समां बाँधा अरुणिता ने

अब आते हैं हरनाज के उत्तराखंड कनेक्शन (Uttarakhand Connection) पर। दरअसल हरनाज़ ने योग की शिक्षा के साथ सफलता का मूल मंत्र ऋषिकेश से लिया है। जी हां, उन्होंने ऋषिकेश के योगी डा. अमृतराज से काफी कुछ सीखा है। ऋषिकेश के तपोवन स्थित आरोग्यधाम योग आश्रम के संचालक डा. अमृत राज बताते हैं कि वर्ष 2019 में मिस इंडिया की दौड़ में हरनाज संधू टाप 12 में जगह नहीं बना सकी थीं।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड: देवभूमि के इस परिवार की बेटी के बाद अब बेटे ने भी किया उत्तराखंड का नाम किया रोशन, दीजिये बधाई

हालांकि उसके बाद वह मिस इंडिया पंजाब बनी थीं। अब उन्होंने अपनी मेहनत के जरिए वर्ष 2021 में मिस इंडिया और मिस यूनिवर्स का खिताब अपने नाम किया। संधू की सफलता के पीछे तीर्थ नगरी ऋषिकेश का नाम जुड़ गया है। ऐसा इसलिए क्योंकि योगी अमृतराज (Yogi Amritraj) के अनुसार उन्होंने मुंबई स्थित फेमिना मिस इंडिया केंपस बिल्डिंग में जाकर हरनाज को ध्यान, प्राणायाम, योग सहित आवश्यक ट्रेनिंग भी दी थी।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड बोर्ड का रिजल्ट अब 30 अप्रैल तक हो जाएगा घोषित

गौरतलब है कि इन प्रशिक्षण (training) का मिस यूनिवर्स जैसी प्रतियोगिताओं में काफी असर पड़ता है। जानकारी के अनुसार इसी साल अगस्त से लेकर नवंबर तक प्रतिमाह योगी अमृतराज ने हरनाज को पांच सत्र में आनलाइन प्रशिक्षण दिया। हरनाज को सफलता के मंत्री भी दिए। यही कारण रहा कि हरनाज़ ने बड़े स्टेज पर अपनी मानसिकता का भी शानदार परिचय दिया।