उत्तराखंड: अरे वाह! देवभूमि के अभिनव पर सब को है अभिमान, इन्सिइटस सक्सेस इंटरनेशनल मैगज़ीन में शामिल हुआ अभिनव का नाम!

Uttrakhand News: देहरादून अनुसंधान और शिक्षा का पर्याय है। सुंदर शहर हिमालय पर्वतमाला, हरियाली, सुखद मौसम और शांतिपूर्ण वातावरण का धनी है। यह भारतीय सैन्य अकादमी, वन अनुसंधान संस्थान, इंदिरा गांधी राष्ट्रीय वन अकादमी, राष्ट्रीय भारतीय सैन्य कॉलेज का घर है। यह सर्वेयर-जनरल का मुख्यालय है और महारत्न ओएनजीसी का भी मुख्यालय है।

हाल ही में किए गए स्वास्थ्य, बुनियादी ढांचे, अर्थव्यवस्था, शिक्षा और अपराध पर आधारित संयुक्त सर्वेक्षण के अनुसार, देहरादून भारत के सबसे सुरक्षित शहरों में से एक है। उत्तराखंड राज्य गठन के बाद, पिछले कुछ दशकों में, देहरादून शहर न केवल उत्तराखंड बल्कि पूरे भारत के शैक्षिक केंद्र के रूप में विकसित हुआ है। उत्तराखंड सरकार के उच्च शिक्षा विभाग द्वारा हाल ही में किए गए एक सर्वेक्षण के अनुसार, दस वर्षों की अवधि में, देहरादून में प्रबंधन और इंजीनियरिंग कॉलेजों की संख्या में तीन गुना वृद्धि देखी गई है।

शिक्षा और अनुसंधान के क्षेत्र किमें देहरादून का नाम ऊँचा करने हेतु व देहरादून में शिक्षा गुणवत्ता मानकों में सुधार और कल के युवा नवोदित वैज्ञानिकों को विश्वसनीय अनुसंधान अवसरों के साथ शामिल करने के मजबूत सिद्धांतों पर सन 2018 में युवान रिसर्च एंड एजुकेशनल ट्रस्ट की स्थापना की गई थी।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड : बेटियां हैं उत्तराखंड का मान, नैनीताल की बेटी को न्यूयॉर्क में मिला बड़ा सम्मान

कोरोना काल में एडुपोम एजुकेशन सर्विसेज की शुरुआत मार्च 2021 में की गई, यह स्टार्ट उप युवान रिसर्च एंड एजुकेशनल ट्रस्ट की ही एक पहल है जिसका उद्देश्य शिक्षा और प्रौद्योगिकी के बीच की खाई को भरना है ताकि शिक्षा प्रदाता और छात्र दोनों लाभान्वित हों। यह शिक्षकों को एक ब्रांड के रूप में विकसित होने और अधिकतम क्षमता तक पहुंचने में मदद करता है। यह शिक्षकों को छात्रों से जोड़ने में मदद करता है। इसका उद्देश्य शिक्षा को तकनीकी रूप से सशक्त बनाना और शिक्षकों और छात्रों के सामने आने वाली समस्याओं का समाधान करना है।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी -(बड़ी खबर) नगर निगम ने किया गौ रक्षक दल का गठन, ऐसे करेंगे शहर में नियंत्रण

इन्सिइट सक्सेस इंटरनेशनल मैगज़ीन के अक्टूबर 2022 अंक में 30 अंडर 30 डायनामिक बिज़नेस लीडर्स की लिस्ट में देहरादून के अभिनव गौड़ (कप्तान) का नाम शामिल किया गया है। इन्सिइट सक्सेस मैगज़ीन के अनुसार एडुपोम एजुकेशन सर्विसेज उत्तराखंड का सबसे तेज़ उभरता एजुकेशनल स्टार्ट उप है और अभिनव गौड़ (कप्तान) जो युवान रिसर्च एंड एजुकेशनल ट्रस्ट व एजुपोम एजुकेशन सर्विसेज के संस्थापक हैं वह राइजिंग एड-टेक स्टार ऑफ़ उत्तराखंड के रूप में लिस्ट में शामिल किए गए हैं।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड: बागेश्वर निवासी रोहित दानू का टीम इंडिया में चयन, दुबई के लिए रवाना

अभिनव की सफलता से जहां उनके परिजनों में खुशी का माहौल है वहीं क्षेत्र में भी खुशी छाई है। 25 वर्षीय अभिनव गौड़ पिछले चार वर्षों से शिक्षा के क्षेत्र से जुड़े हैं और देहरादून में विभिन्न समाजिक कार्य कर रहें हैं। यूके पॉजिटिव न्यूज़ की ओर से अभिनव एवं उनके परिजनों को हार्दिक बधाई।

25 वर्षीय अभिनव गौड़ पिछले चार वर्षों से शिक्षा के छेत्र से जुड़े हैं और देहरादून में विभिन्न समाजिक कार्य कर रहें हैं।