उत्तराखंडः पहाड़ की इस ने किया कमाल, दीजिये बधाई

Uttarakhand News: खेल के मैदान पर बेटियों ने अपने कद को पिछले कुछ महीनों में खूब बढ़ाया है। क्रिकेट में देवभूमि की बेटियों ने गजब का काम किया है। भारतीय महिला क्रिकेट टीम (Indian women cricket team) की स्टार स्नेह राणा ने अब घरेलू क्रिकेट में जलवा बिखेरना शुरू कर दिया है। चैलेंजर ट्रॉफी (Challenger trophy) के एक मुकाबले में स्नेह ने पहले तीन विकेट चटकाए फिर कप्तानी पारी खेलकर टीम को मैच जिताया ।

उत्तराखंड में महिला क्रिकेट आगे बढ़ेगा कैसे नहीं। स्नेह राणा जैसी बेटियों ने प्रदेश का नाम लगातार रौशन करने का संकल्प जो ले रखा है। दरअसल देहरादून (Dehradun) निवासी 27 वर्षीय स्नेह राणा को बीसीसीआई ने हाल ही में चैलेंजर ट्रॉफी के लिए टीम इंडिया ए (Team India A) का कप्तान बनाया था। अब यह प्रतियोगिता शुरू हो गई ।

स्नेह राणा (Sneh Rana) ने एक बार फिर दिखाया है कि वह क्या काबिलियत रखती हैं। दो दिन पूर्व इंडिया ए टीम ने स्नेह की अगुवाई में इंडिया सी को पांच विकेट (Five wickets) से हरा दिया। इस मुकाबले में स्नेह ने गजब का खेल दिखाया। पहले बल्लेबाजी करते हुए इंडिया सी की टीम महज 205 रन पर सिमट गई।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड: देवभूमि की स्नेह राणा एक बार फिर से चर्चा में, इंग्लैंड में फिर से दिखेगा उत्तराखंड़ का जलवा

बता दें कि इंडिया सी की तरफ से राधा पी यादव ने सर्वाधिक 82 रन बनाए। वहीं इंडिया ए की तरफ से कप्तान स्नेह राणा (captain Sneh Rana) ने 8.1ओवर में 32 रन देकर तीन विकेट झटके। जिसमें राधा यादव का विकेट भी शामिल था। इसके बाद जब इंडिया ए लक्ष्य का पीछा करने उतरी तो 25 ओवर के मार्क तक उनके 80 रन पर तीन विकेट गिर चुके थे।

यह भी पढ़ें 👉  देहरादून - शीघ्र भरे जायेंगे एनएचएम के 883 रिक्त पदः डॉ. धन सिंह रावत

गौरतलब है कि 206 रनों के लक्ष्य का पीछा कर रही टीम की पारी मझदार में ही बिखर सकती थी। लेकिन कप्तान स्नेह राणा ने अपने बल्ले से ऐसा नहीं होने दिया। उन्होंने 75 गेंदों पर शानदार 59 रनों की पारी (Innings) खेली। जिसकी बदौलत इंडिया ए ने आसानी से पांच विकेट हाथ में रहते हुए मुकाबले को अपने नाम कर लिया।

यह भी पढ़ें 👉  देहरादून-(बड़ी खबर) मिलेट्स के चलते उत्तराखंड में मोटे अनाज को मिलेगा ऐसे बढ़ावा

स्नेह राणा का कद बीते कुछ महीनों में लगातार बढ़ा है। बता दें कि उन्होंने इसी साल भारतीय टीम (Indian team) में पांच साल बाद वापसी की थी। तब उन्होंने इंग्लैंड में अपने डेब्यू टेस्ट में ही इतिहास रचा था। इसके बाद से ही स्नेह के करियर ने उड़ान भऱ ली है। बीसीसीआई ने भी उन्हें भारतीय टीम के भविष्य दो देखते हुए इंडिया ए का कप्तान बनाया है। उम्मीद है कि स्नेह ऐसे ही उत्तराखंड का नाम रौशन करती रहेंगी ।