उत्तराखंड: यहां 78 लाख रुपये मूल्य की स्मैक के साथ महिला तस्कर गिरफ्तार।

स्पेशल टास्क फोर्स उत्तराखंड की एएनटीएफ टीम द्वारा नशा की तस्करी पर कड़ा प्रहार किया है। एसटीएफ ने भारी मात्रा में स्मैक की गई बरामदगी कर एक महिला तस्कर को गिरफ्तार किया है। बताया गया है कि बरेली की नशा तस्कर ने देहरादून में अपना स्थाई ठिकाना बना लिया था। एसटीएफ ने उसके मंसूबे फेल कर नशा तस्कर से 259 ग्राम स्मैक बरामद कर जेल भेजा। णबरामद स्मैक की अंतरराष्ट्रीय बाजार में 78 लाख रुपए कीमत आंकी गई है। गिरफ्तार अभियुक्ता पिछले कई वर्षों से स्मैक की तस्करी में है संलिप्त। बरेली से सीधे देहरादून सप्लाई कर रही थी। उसके कई ड्रग पेडलरों के संपर्क में रहने के संकेत मिले हैं।

उत्तराखंड राज्य में बढ़ते नशे की प्रवृति की रोकथाम हेतु मुख्यमंत्री के उत्तराखंड के ड्रग्स-फ्री देवभूमि अभियान के अंतर्गत वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक एसटीएफ आयुष अग्रवाल द्वारा ड्रग्स के खिलाफ कार्यवाही करने के आदेश पर एसटीएफ की *ए.एन.टी.एफ टीम (एंटी नारकोटिक्स टास्क फोर्स) द्वारा थाना डोईवाला पुलिस के साथ मिलकर सयुंक्त कार्यवाही करते हुए डोईवाला क्षेत्र से अभियुक्ता ताहिरा खातून पत्नी जाकिर हुसैन निवासी ग्राम नई बस्ती कुडकावाला डोईवाला को 259 ग्राम स्मैक के साथ गिरफ्तार किया गया, अभियुक्ता द्वारा पूछताछ पर बताया कि यह स्मैक बरेली से लेकर आई थी, इस पर एसटीएफ को अभियुक्ता से पूछताछ में अन्य कई ड्रग्स पैडलरो के नाम की जानकारी हुई है। जो डोईवाला क्षेत्र में ताहिरा खातून से स्मैक खरीदते थे और डोईवाला क्षेत्र में विशेष कर जॉली ग्रांट क्षेत्र में रहने वाले छात्रों को विक्रय करते थे।

एसटीएफ द्वारा प्रकाश में आए इन सभी पैडलरों की लिस्ट तैयार की गई है जिन पर अलग से कार्यवाही की जायेगी। पकड़ी गई महिला तस्कर द्वारा बताया गया कि वह मूल रूप से बरेली उत्तर प्रदेश की रहने वाली है। जहां पर उसने इस धंधे के बारे में जानकारी हुई और बड़े ड्रग डीलरों से संपर्क में आई और फिर विगत 5-6 साल पहले डोईवाला के कुडकावावाला क्षेत्र में रहने को आ गई और बरेली से यहां स्मैक सप्लाई करती लगी। इसके लिए इस महिला तस्कर द्वारा डोईवाला के कुडकवाला वाले क्षेत्र में अपना एक मकान भी विगत दो-तीन साल में बना दिया है। जहां से यह सारा माल स्थानीय डोईवाला क्षेत्र में अपने पैडलरों के माध्यम से विक्रय कर देती थी। इस तस्कर के तार सीधा बरेली के बड़े तस्करों से जुड़े होने की जानकारी मिली है, जिन पर भी एसटीएफ द्वारा अब आगे की कार्रवाई करने की योजना बनाई जा रही है। यह अभियुक्ता पूर्व में भी ड्रग तस्करी के मामले जेल जा चुकी है

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड: देवभूमि का यह युवा भारतीय नौसेना में हुआ चयन! बधाई तो बनती है ।

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक एसटीएफ आयुष अग्रवाल द्वारा आज पुनः अपने निम्न ऑफिस नंबर जारी करते हुए जनता से अपील की है कि नशे से दूर रहे। किसी भी प्रकार के लालच में आकर नशा तस्करी न करें। नशा तस्करी करने वालों के खिलाफ कार्यवाही हेतु तत्काल निकटतम पुलिस स्टेशन या एस. टी. एफ उत्तराखंड से संपर्क करें। एसटीएफ लगातार ड्रग्स-फ्री देवभूमि अभियान के तहत अपनी कार्यवाही जारी रखे रहेगी। एसटीएफ से संपर्क हेतु- 0135 2656202, 9412029536 नंबर जारी किए गए हैं।

यह भी पढ़ें 👉  नैनीताल- अब भ्रष्टाचार ऐसे होगा नियंत्रित, सरकारी दफ्तरों में होगा यह काम

गिरफ्तारी टीम में निरीक्षक नीरज कुमार, उपनिरीक्षक सत्येन्द्र सिंह, अपर उपनिरीक्षक चिरंजीत सिंह, आरक्षी दीपक नेगी, आरक्षी अमित कुमार, आरक्षी रामचन्द्र, आरक्षी राकेश, कोतवाली डोईवाला टीम की महिला उपनिरीक्षक सीमा कोहली, मुख्य आरक्षी देवेंद्र सिंह नेगी शामिल थे।