उत्तराखंडः देवभूमि की इस बेटी ने कायम की अनूठी मिसाल,बनी कईयों के लिए प्रेरणाश्रोत

Uttrakhand News: कहते हैं परिवर्तन प्रकृति का नियम है और गाहे-बगाहे हमें अपनी दिनचर्या में भी परिवर्तन करना ही पड़ता है। अपनी जिंदगी में कुछ ऐसा ही परिवर्तन किया है लगभग छः वर्षों तक ओएनजीसी के सीएसआर प्रोजेक्ट में काम करने वाली ज्योति बोरा ने।

जी हां.. हम बात कर रहे हैं पिथौरागढ़ (Pithoragarh) की पहली महिला बेकरी संचालक की, जिन्होंने दूर तबादला होने पर न सिर्फ नौकरी छोड़ कर पहाड़ की हसीन वादियों में रहना स्वीकार किया बल्कि नौकरी छोड़ने के तुरंत बाद स्वरोजगार की राह चुन खुद के साथ ही कई अन्य लोगों को भी आत्मनिर्भर बनाया। अभी तक माई पिथौरागढ़ और ऑनलाइन पिथौरागढ़ वेबसाइट के माध्यम से आनलाइन केक की डिलीवरी करा रही ज्योति ने अब इस दिशा में एक और कदम बढ़ाकर स्वयं का बेकरी व्यवसाय (Bakery Business) शुरू कर दिया है।

सबसे खास बात तो यह है कि ज्योति पिथौरागढ़ की पहली बेकरी महिला संचालक हैं, जो बेकरी व्यवसाय को अपनाकर अन्य लोगों को भी व्यवसाय दे रहीं हैं ।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड: जानिए कैसा रहेगा मौसम का मिजाज? आखिर क्या कहा मौसम विभाग ने मौसम के बारे में!

बता दें कि वर्तमान में राज्य के पिथौरागढ़ जिले के बजेटी वार्ड निवासी ज्योति बोरा ने अपने घर पर ही बेकरी व्यवसाय शुरू कर स्वरोजगार की दिशा में एक और कदम बढ़ाया है। इक खास बातचीत में ज्योति ने बताया कि वह मूल रूप से पिथौरागढ़ जिले की डीडीहाट तहसील के जौरासी क्षेत्र की रहने वाली है, उनके पिता भारतीय सेना से सेवानिवृत्त हैं। उन्होंने यह भी बताया कि सात लाख रुपए की लागत से शुरू हुए इस बेकरी व्यवसाय के लिए उन्होंने जहां पांच लाख रुपए का ऋण प्रधानमंत्री स्वरोजगार योजना से लिया है वहीं दो लाख रुपये स्वयं की पूंजी लगाई है।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड की पहली टैक्सी ड्राइवर रेखा पांडे का संघर्ष जानकर हो जाएंगे हैरान

बताते चलें कि बीते फरवरी माह में शुरू हुई इस बेकरी में जीरा, काजू, मडुआ, नारियल, अजवाइन के बिस्कुट, कुकीज, केक, क्रीम बन, क्रीम रोल आदि बनाए जा रहे हैं। जिसको वह अपनी वेबसाइट के माध्यम से 10-12 किलोमीटर के दायरे में आनलाइन डिलीवरी भी करा रहीं हैं ।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी – राहत की खबर ट्रांसपोर्ट कारोबारी के हड़ताल खत्म

सबसे बड़ी बात तो यह है कि ज्योति जहां अपनी दोनों वेबसाइटों के माध्यम से पिथौरागढ़ जिले को डिजिटल कर रही है जिसमें उनका साथ आनंद बोरा दे रहे हैं वहीं अपने फेसबुक पेज माय पिथौरागढ़ से जिले की उभरती प्रतिभाओं को भी प्लेटफार्म उपलब्ध करा रही हैं।