उत्तराखंड: गजब के हौसले ! देवभूमि के इस व्यक्ति ने किया कमाल!

यूसीजी नेट परीक्षाओं में हर बार उत्तराखंड के युवा कमाल करते हैं। कम संसाधनों के बाद भी नेशनल लेवल परीक्षा में सफलता अपने आप में कहानी है। एक कहानी विजय सेमवाल की भी है जिन्होंने 59 साल की उम्र में यूजीसी नेट परीक्षा में सफलता हासिल की है। टिहरी गढ़वाल जिले के जाखणीधार ब्लॉक के ग्राम पंचायत नेग्याणा मगरौं निवासी विजय सेमवाल की, जिन्होंने हाल ही में नेट क्वालीफाई किया है। बता दें कि 59 साल के सेमवाल ने टूरिज्म एडमिनिस्ट्रेशन एंड मैनेजमेंट विषय पर नेट क्वालीफाई किया है।

विजय सेमवाल यूपी गढ़वाल मंडल विकास निगम में वरिष्ठ प्रबंधक के पद पर कार्यरत रहे हैं। सेवानिवृत्त होने के बाद उन्होंने घर पर रहकर निरंतर पढ़ाई जारी रखी और अपनी कड़ी मेहनत के दम पर बिना किसी कोचिंग के सेल्फ स्टडी से यह अभूतपूर्व उपलब्धि हासिल की है ।

विजय सेमवाल ने वर्ष 2012 में उत्तराखण्ड ओपन यूनिवर्सिटी से टूरिज्म मैनेजमेंट में परास्नातक की डिग्री हासिल की। इससे पहले उन्होंने वर्ष 1990 में हेमवती नंदन बहुगुणा गढ़वाल विश्वविद्यालय से टूरिज्म मैनेजमेंट में डिप्लोमा किया है। इसके बाद उनकी गढ़वाल मंडल विकास निगम में नौकरी लग गई।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड: 8 से 14 वर्ष तक के बच्चों को हर महीने मिलेंगे इतने रुपए, सरकार लाई है यह नई योजना

वर्ष 2020 में निगम की सेवा से विरत होने के बाद भी उन्होंने पढ़ाई नहीं छोड़ी। वह भविष्य में टूरिस्ट मैनेजमेंट में शोध कर पीएचडी करना चाहते हैं। विजय बताते हैं कि इस परीक्षा में सफलता पाने का उनके मन में जुनून था। इसके लिए उन्होंने न तो कोई कोचिंग ली और न ही ऑनलाइन पढ़ाई की। वह बताते हैं कि जो भी पुस्तकें उनके पास उपलब्ध थी उन्हीं को लगातार पढ़ते रहे, और उनकी इसी कड़ी मेहनत और लगन ने उन्हें सफलता मिली।