उत्तराखंड: वाद-विवाद प्रतियोगिता में छाए शैमफॉर्ड के छात्र, जिले के 210 विद्यार्थियों ने लिया हिस्सा

Uttarakhand News : हिंदी वाद विवाद प्रतियोगिता के विषय ऑफलाइन कक्षाएं ऑनलाइन कक्षाओं से बेहतर हैं जूनियर वर्ग के लिए तो वहीं आरक्षण समाज के हित में आवश्यक है.. लड़कियों के विवाह की न्यूनतम आयु 21 वर्ष होनी चाहिए रहे। अंग्रेजी वाद विवाद प्रतियोगिता में जूनियर वर्ग के आरव टिक्कू (दीक्षांत इंटरनेशनल स्कूल) लक्षिता रखोलिया (निर्मला कान्वेंट स्कूल) प्रियांशी शैमफॉर्ड स्कूल।

सेकेंडरी वर्ग में गरिमा रावत- छवि तिवारी गुरुकुल इंटरनेशनल स्कूल, दीपक भट्ट शैमफॉर्ड स्कूल, अर्थ अग्रवाल दीक्षांत इंटरनेशनल स्कूल। सीनियर वर्ग में मिस्टी मेहरा निर्मला कान्वेंट स्कूल, तरुण जोशी डीएवी स्कूल हल्द्वानी एवं कल्पना नेगी गुरुकुल स्कूल पहले, दूसरे और तीसरे स्थान पर रहे।

हिंदी में जूनियर वर्ग में चित्रार्थ मेहरा दीक्षांत नेशनल स्कूल, भूमिका गरसारी डीएवी सेकेंडरी स्कूल पहले स्थान परआरुषि महतोलिया शैमफर्ड स्कूल द्वितीय एवं ध्रुव जोशी ऑरम स्कूल, पूजा पांडे शैमफर्ड स्कूल संयुक्त रूप से तीसरे स्थान पर रहे। सेकेंडरी वर्ग में सुयश गुरूरानी डीपीएस, हिमानी पलड़िया (वाइटहॉल), नीरज पांडे शैमफॉर्ड तथा सीनियर वर्ग में एकता पंत (डीएवी) निर्मल रौतेला (सेंट लॉरेंस) राहुल आर्य गुरुकुल इंटरनेशनल एवं पारुल अग्रवाल स्कॉलर एकेडमी संयुक्त रूप से पहले, दूसरे और तीसरे स्थान पर रहे।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड: कलयुगी माँ - बाप का कहर, खुद की बेटी को ही उतारा मौत के घाट

विद्यालय प्रबंधक दयासागर बिष्ट एवं प्रधानाचार्य चंद्रकला अमोला ने सभी प्रतिभागियों को शुभकामनाएं दी एवं उनके उज्जवल भविष्य की कामना की तथा सभी स्कूलों का प्रतियोगिता में सफल आयोजन के लिए आभार व्यक्त किया।