उत्तराखंड: बाबा नीम करौली के दर्शन करने पहुंचा यह क्रिकेटर, लिया बाबा का आशीर्वाद!

Uttarakhand News:भारत के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी दशकों के बाद उत्तराखंड के कुमाऊं क्षेत्र में पहुंचे हैं। धोनी अपने परिवार और दोस्तों के साथ नैनीताल पहुंचे हैं। बताया जा रहा है कि 19 नवंबर को धोनी की पत्नी साक्षी रावत का जन्मदिन है और इसके चलते वो उत्तराखंड पहुंचे हैं। इसके अलावा धोनी के अल्मोड़ा जिले में स्थित पैतृक गांव जाने के भी कयास लगाए जा रहे हैं। मंगलवार को धोनी पंतनगर एयरपोर्ट पहुंचे और फिर नैनीताल के लिए निकल पड़े। मीडिया रिपोर्ट्स में ये भी कहा जा रहा है कि धोनी कैंची धाम मंदिर की ओर गए थे लेकिन ज्यादा भीड़ होने के वजह से वो वापस नैनीताल लौट गए, हालांकि वो बुधवार को नीम करौली बाबा के दर्शन कर सकते हैं।

धोनी को पूरे भारत से कितना प्यार मिलता है, इसे किसी तराजू में नहीं तोला जा सकता है। भारत के लिए धोनी ने आखिरी मुकाबला 2019 में न्यूजीलैंड के खिलाफ विश्वकप सेमीफाइनल में खेला था। भारत इस मैच को हार गया था। 15 नवंबर को भारत और न्यूजीलैंड विश्वकप सेमीफाइनल में एक बार फिर आमने-सामने होंगे। मैच से पहले धोनी नीम करौली बाबा के दर्शन करेंगे और आर्शीवाद लेंगे। भले ही धोनी का ये उत्तराखंड का निजी दौरा सेमीफाइनल और कैंची धाम से बिल्कुल कनेक्ट ना हो लेकिन क्रिकेट फैंस ने धोनी के दौरे को भारत के सेमीफाइनल से जोड़कर देखना शुरू कर दिया है। उनका कहना है कि वो भारत की जीत के लिए धोनी और उनके फैंस नीम करौली बाबा से प्रार्थना जरूर करेंगे।

महेंद्र सिंह धोनी का ये दौरा करीब एक हफ्ते का रहने वाला है। सूत्रों की मानें तो धोनी 20 नवंबर को दिल्ली वापस लौटेंगे। धोनी के उत्तराखंड के नैनीताल पहुंचने की खबर मिलते ही फैंस उत्साहित हो गए है। पंतनगर एयरपोर्ट में भी धोनी की झलक पाने के लिए फैंस उत्साहित देखें। धोनी करीब आधा घंटा एयरपोर्ट में रुके और फिर नैनीताल की ओर निकल पड़े। धोनी ने एयरपोर्ट स्टाफ, पुलिसकर्मी और कुछ फैंस को साथ फोटो भी क्लिक कराई।

यह भी पढ़ें 👉  मुख्य सचिव डॉ. एस.एस. संधु ने ऋषिकेश में आयोजित होने वाली जी20 की तैयारियों के सम्बन्ध में बैठक ली।