Uttarakhand: यहां फर्जी ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करने वाले हरिद्वार ट्रैवल एजेंसी संचालक /एजेंट गिरफ्तार! पढ़िए पूरी खबर!

24 मई, 2024 को चारधाम रजिस्ट्रेशन चेकिंग के दौरान विकासनगर मैं यात्रियों के फर्जी रजिस्ट्रेशन प्रपत्र मिले थे. इस दौरान संबंधित ट्रैवल एजेंसियों के विरुद्ध कोतवाली विकासनगर में अभियोग पंजीकृत किए गए थे वहीं एसएसपी देहरादून द्वारा अभियुक्तों की तत्काल गिरफ्तारीके लिए विशेष टीम का गठन किया गया था. इस पूरे मामले को देखते हुए पुलिस टीम द्वारा 04 अभियुक्तों को हरिद्वार से गिरफ्तार किया गया। बताया गया कि दून पुलिस द्वारा अब तक दिल्ली, नोएडा तथा हरिद्वार के 08 ट्रैवल एंजेसी संचालकों/एजेन्टो की गिरफ्तारी की जा चुकी है व अब तक फर्जी रजिस्ट्रेशन करने वाले ट्रैवल एजेंसी संचालकों/ एजेंटों के विरुद्ध 35 अभियोग पंजीकृत किए गए हैं। फर्जी रजिस्ट्रेशन के लिए प्रयुक्त लैपटॉप व मोबाइल फोन भी पुलिस टीम ने आरोपियों से बरामद किये हैं।

पुलिस द्वारा बताया गया कि अभियुक्तों द्वारा उत्तराखंड टूरिज्म डेवलपमेंट बोर्ड के फर्जी रजिस्ट्रेशन प्रपत्र व फर्जी क्यूआर कोड यात्रियों को असली बताकर दिए जाते थे वहीं अभियुक्तों द्वारा गुजरात व राजस्थान के यात्रियों को चारधाम व हेमकुंड साहिब के फर्जी रजिस्ट्रेशन प्रपत्र भी दिए गए। अभियुक्तों द्वारा चारधाम यात्रियों को अपने झांसे में लेकर फर्जी दस्तावेज तैयार कर यात्रियों से मोटी धनराशि वसूली गई थी। पुलिस ने गिरफ्तार अभियुक्तों के विरुद्ध धारा 420/476/468/471 ipc के अंतर्गत कार्यवाही की है।

कोतवाली विकासनगर⤵️

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी- मंत्री ने यहां दो जगह किया औचक निरीक्षण, अधिकारियों में हड़कंप

विकासनगर क्षेत्र में बनाएं गए चारधाम यात्रा हेतु अस्थाई चेकिंग सेंटर मैं चार धाम यात्रा में आने वाले प्रत्येक यात्री के ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन चेक करने हेतु एसएसपी देहरादून द्वारा संबंधित अधिकारियों को सख़्त दिशा निर्देश दिए गए हैं। जिसके अनुपालन में कोतवाली विकास नगर क्षेत्रान्तर्गत हरबर्टपुर बस स्टेण्ड, कटापत्थर बैरियर पर दिनांक- 24 मई को चारधाम यात्रियों के ऑनलाईन रजिस्ट्रेशनों के दस्तावेजों को TOURIST CARE UTTARAKHAND App से चैक किया गया। जिसके फलस्वरुप कुछ यात्रियों के फर्जी रजिस्ट्रेशन पाये गये। जिसपर ट्रेवल एजेण्टों व फर्जी रजिस्ट्रेशन करने वालों के विरुद्ध कोतवाली विकासनगर पर अलग अलग अभियोग पंजीकृत किये गये थे। अभियोग के अनावरण हेतु वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक देहरादून के निर्देशानुसार अभियुक्तों की गिरफ्तारी हेतु एक टीम का गठन किया गया। जांच टीम द्वारा अभियोग में धारा 467, 468 471,120 b आईपीसी की बढ़ोतरी की गई। पुलिस टीम द्वारा हरिद्वार से 04 अभियुक्तों को नियमानुसार गिरफ्तार किया गया है।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी – धोनी पहुंचे कुमाऊं दौरे पर, कैंची धाम के करेंगे दर्शन

विवरण गिरफ्तार अभियुक्तगण⤵️

01- ऋषभ गुलाटी पुत्र विनय गुलाटी उम्र 29 वर्ष निवासी भैरो मन्दिर कॉलोनी कनखल हरिद्वार।( गंगा टूर एंड ट्रैवल्स एजेंसी हरिद्वार)
संबंधित मु0अ0स0 177/24 धारा 420,467,468,471 आईपीसी

02-आशुतोष पुत्र नत्थु राम निवासी कनखल हरिद्वार उम्र 36 वर्ष,

03-भुपेश शर्मा पुत्र बलराम शर्मा निवासी भारतमाता पुरम भुपतवाला हरिद्वार उम्र- 47 वर्ष,

यह भी पढ़ें 👉  देहरादून-(बड़ी खबर) CM ने प्रदेश की 167 सुपरवाइजरो को दिए नियुक्ति पत्र, खिले चेहरे

04- नीरज कुमार पुत्र श्री रोशन लाल तनेजा निवासी मुख्य गली भुपतवाला हरिद्वार उम्र 42 वर्ष
( उपरोक्त तीनों संचालक/ एजेंट पूर्णा ट्रैवल एजेंसी हरिद्बार)
तीनों संबंधित मु0अ0स0 179/24 धारा 420,468,467,471,120B आईपीसी

बरामदगी माल⤵️

01 लैपटॉप एचपी कंपनी
01 मोबाइल फोन विवो कंपनी

अपरा

अभियुक्तों द्वारा गुजरात के 27 यात्रियों को चारधाम यात्रा का व भीलवाड़ा राजस्थान के 22 यात्रीयो को बद्रीनाथ हेमकुंड साहिब की यात्रा का उत्तराखंड टूरिस्ट डेवलपमेंट बोर्ड साइट से फर्जी रजिस्ट्रेशन बनाकर एक ही क्यूआर कोड का इस्तेमाल कर CUT COPY PASTE के जरिए फर्जी क्यूआर code डाल कर रजिस्ट्शन स्लिप दी गई व रजिस्ट्रेशन स्लीप में यात्रा की फर्जी दिनांक अंकित की गई जिसे यात्रियों द्वारा रजिस्ट्शन स्लीप को असली मान कर यात्रा शुरू की गई।