“कोमल है कमजोर नहीं” नारी न्याय सम्मेलन में बिन्दुखत्ता की नारियों ने भरी हुंकार!

आज दिनांक 28/2/2024 को लालकुआं (बिन्दुखत्ता) में नारी न्याय सम्मेलन में महिलाओं ने भरी हुंकार
कोमल है कमजोर नहीं शक्ति का नाम नारी है इस गीत के साथ बिंदुखत्ता के बीडी जोशी मेमोरियल स्कूल के ऑडिटोरियम में आज कांग्रेस पार्टी से जुड़ी महिलाओं ने नारी न्याय सम्मेलन का आगाज किया


कांग्रेस शीर्ष नेतृत्व के आह्वान पर प्रत्येक विधानसभा में आयोजित किए जा रहे नारी न्याय सम्मेलन के तहत आज यहां बड़ी संख्या में महिलाएं जुटीं तथा सभी ने एक स्वर में महिलाओं के साथ हो रहे अन्याय अत्याचार एवं शोषण के खिलाफ डटकर मुकाबला करने का संकल्प लिया कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि पहुंची कांग्रेस पार्टी की प्रदेश प्रवक्ता बीना जोशी ने कहा कि कांग्रेस ने हमेशा से ही नारी सशक्तिकरण की दिशा में कार्य किया है उन्होंने कहा कि चाहे पंचायतों में महिलाओं को 50% भागीदारी सुनिश्चित करना रहा हो या अन्य क्षेत्र रहे हो हर स्थान पर कांग्रेस महिला सशक्तिकरण की पक्षधर रही है उन्होंने कहा कि जिसका उदाहरण पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय इंदिरा गांधी ,राष्ट्रपति डॉक्टर प्रतिभा पाटिल लोकसभा अध्यक्ष डॉ मीरा कुमार राज्यपाल मार्गेट अलवा आदि के रूप में देखा जा सकता है।

उर्मिला मिश्रा, राधा दानू , मंजू जोशी,किरन जोशी, आशा जोशी, उर्मिला धामी , हंसी बहुगुणा,विधा जोशी ,यमुना नैनवाल, दीपा पांडे, रेखा यादव ,चंपा पांडे ,शीला पांडे ,माया पाठक ,नीमा जोशी, भावना पांडे ,उमा जोशी ,कविता देवी, विद्या देवी, दीपा जोशी ,कविता जोशी, प्रेमा शर्मा ,हेमा रावत, दीपा बिष्ट, पूजा देवी, दीपा जोशी ,मानसी , गौरी ,हंसी देवी, सरस्वती पंडित, यशोदा, अंजलि, दीक्षा, राधा, इंदिरा प्रियंका मिश्रा,कविता देवी, गुड्डी मतपाल, बसंती देवी, भवानी पानेरी, नीरू पांडे, लक्ष्मी कार्की, रिद्धि पांडे, मनीषा ,शांति देवी, तारा देवी ,रेनू ,कलावती भट्ट, मोहिनी देवी, गीत जोशी, भावना पांडे, इशिका जोशी ,शांति देवी ,मुन्नी देवी ,कमला देवी पलाडिया ,लीला देवी, मनीषा देवी सहित सैकड़ो महिलाओ ने भी महिलाओं से अपने अधिकारों के प्रति सतर्क रहने तथा अन्याय अत्याचार एवं शोषण के खिलाफ आवाज मुखर करने का आह्वान किया तथा कहा कि अन्याय एवं अत्याचार को सहना भी बड़ा अपराध है।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड: पहाड़ में सातों आठों पर्व की धूम, ऐसे मनाया गावँरा पर्व,गावँरा की विदाई में हुई सब की आंखे नम


इस दौरान शहीद वीरांगनाओं प्रेमा पपोला तथा गंगा फुलारा को शाल उड़ाकर सम्मानित किया गया ।