अल्मोड़ा: तीन बच्चों की मां को भगा ले गया नाई, मोबाइल में मिली सेल्फी

Ranikhet News: पहाड़ो से महिलाओं के भागने का सिलसिला लगातार जारी है। आए दिनों महिलाओं और लड़कियों के भागने की खबरें पहाड़ी जिलों से आ रही है। जो लगातार बढ़ती ही जा रही है। अब खबर अल्मोड़ा जिले के द्वाराहाट से है। जहा एक गांव की महिला को रानीखेत निवासी समुदाय विशेष का युवक बरगला कर भगा ले गया।

जब परिजनों ने उसकी खोजबीन की तो वह कही नहीं मिली। जिसके बाद परिजन कोतवाली पहुंचे। इसके बाद जब आरोपी से महिला के रिश्तेदारों ने मोबाइल पर बात की। परिजनों ने दावा किया कि दूसरे समुदाय का युवक महिला को अपने साथ लेकर घूम रहा है। बताया कि आरोपी अलग-अलग स्थानों पर मिलने की बात कर गुमराह कर रहा। जिसके बाद पूरे घटनाक्रम को लेकर लोगों में आक्रोश है। पुलिस मामले की जांच में जुट गई है।

जानकारी के अनुसार द्वाराहाट थाना क्षेत्र का एक ग्रामीण शनिवार शाम रानीखेतवासी अपने रिश्तेदारों को लेकर कोतवाली पहुंचा। बताया कि हाल ही में उसकी पत्नी वायरल की चपेट में आ गई थी, रानीखेत में एक निजी चिकित्सक के यहां वह इलाज करवा रही थी। तब उसने पति को बताया था कि चिकित्सक ने उसे 20 दिन बाद बुलाया है। लेकिन उसने ईद वाले दिन चिकित्सक से मिलने की बात कही।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड- हल्द्वानी की इस होनहार छात्रा के सपने होंगे पूरे, अमेरिका की यूनिवर्सिटी ने एक करोड़ 64 लाख की दी स्कॉलरशिप

ऐसे में भरोसा कर पति ने उसे वाहन में बैठा कर उपचार के लिए भेज दिया। अब पति ने आरोप लगाया है कि उसी दिन रानीखेत में हेयर ड्रेसर की दुकान चलाने वाला समुदाय विशेष का युवक उसे बरगलाकर भगा ले गया। बताया जा रहा है कुछ दिन पहले महिला की मां की तबियत खराब हो गया थी, तब उसे नागरिक चिकित्सालय में भर्ती कराया गया था। आरोपी का एक परिजन भी वहीं भर्ती था। तब युवक ने मदद का हवाला दे कर करीबी बढ़ाई थी।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड-(बड़ी खबर) राज्य के बजट पर मुख्यमंत्री धामी की पहली प्रतिक्रिया, बताया ऐतिहासिक

परिजनों का कहना है कि उस व्यक्ति ने उस दिन महिला का नंबर भी ले लिया था। तभी से वह संपर्क में रहा और उसकी मजबूरी का लाभ उठाता रहा। मामला तब खुला जब महिला के मोबाइल में नाई के साथ उसकी सेल्फी पकड़ी गई। 40 साल की महिला के तीन बच्चे भी हैं। कोतवाल हेम चंद्र पंत महिला के परिजनों से पूछताछ में जुटे है।