उत्तराखंड- खेल कूद में आगे देवभूमि, अवनि दरियाल ने माउंटेन बाइकिंग में जीता ब्रांज मेडल

Pithoragarh News- खेल कूद में प्रदेश अब एक ताकत बनने की ओर अग्रसर है। उत्तराखंड के युवा लगातार हर वर्ग एवं हर लेवल पर अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं। इसी कड़ी में पिथौरागढ़ के साइकिल चालकों की जितनी तारीफ की जाए कम है। माउंटेन बाइकिंग में पिथौरागढ़ के युवाओं ने देश को अपनी प्रतिभा दिखाई है। जिले की अवनि दरियाल ने तो ब्रांज मेडल भी अपने नाम किया है।

दरअसल पुणे में 18वीं माउंटेन बाइकिंग प्रतियोगिता आयोजित की गई थी। जिसमें पिथौरागढ़ की साइकलिंग टीम ने भी हिस्सा लिया था। यूथ गल्र्स क्रास कंट्री ओलंपिक में अवनि दरियाल ने तीसरा स्थान प्राप्त कर कांस्य पदक जीता। इसके अलावा धीरज शालोनी और बृजेश वर्मा ने विभिन्न प्रतियोगिताओं में हिस्सा लेकर अच्छा प्रदर्शन किया।

धीरज शालोनी ने साठ में से 18वें स्थान पर एक दोषपूर्ण साइकिल एकाधिक फॉल्स के बाद भी अपनी दौड़ को पूरा किया। जो कि वाकई एक बड़ी बात है। इस सफलता से जिले के लोग काफी खुश हैं। जिले में साइकलिंग को बढ़ावा देने वाले प्रमुख संस्थान पिथौरागढ़ एडवेंचर एकेडमी ने भी इस मौके पर खुशी जाहिर की है।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड: अरे वाह! इस विभाग में आने वाली है दनादन सरकारी भर्ती!

संस्थान का मानना है कि यह उनके लिए गर्व की बात है कि लगातार दूसरे वर्ष राष्ट्रीय माउंटेन बाइक चैंपियनशिप में पिथौरागढ़ और उत्त्तराखंड का प्रतिनिधित्व करने वाले एथलीट दिए हैं। कोच वीरेंद्र दरियाल ने कहा कि जिले के युवा बहुत कुछ करने की काबिलियत रखते हैं। ऐसे में परिवार और प्रशासन का सपोर्ट मिला तो युवा और ऊंचाई पर पहुंच सकते हैं। कोच का दावा है कि आने वाले साल में युवा और अधिक पदक जीतने वाले हैं। उनका कहना है कि वह भारत के लिए एथलीट तैयार करने में जुटे हैं।