उत्तराखण्ड

उत्तराखंड: यूरोप अमेरिका में बढ़ाया देवभूमि के इस युवा ने उत्तराखंड सहित पूरे भारत का मान, दीजिए बधाई

Uttarakhand News: उत्तराखंड की सभ्यता, संस्कृति और प्रतिभा अपने आप में आलौकिक है। यहां टैलेंट की कोई कमी नहीं है। आज की तारीख में जितना उत्तराखंड के बच्चे ख्याति पा रहे हैं। उतना ही नाम हमारे प्रदेश के शिक्षक भी कमा रहे हैं। हल्द्वानी निवासी मयंक गर्ग भी इन्हीं में से एक हैं। युवा लेखकर और शिक्षाविद मयंक वैदिक गणित के लिए देश दुनिया में मशहूर हैं। नई पुस्तक द मैजिक ऑफ वैदिक मैथ्स का नया एडिशन दुनिया के लगभग सभी देशों में नाम बना रहा है।

ट्विन विन नामक कंपनी चलाने वाले मयंक गर्ग एप्टिट्यूड और वैदिक गणित के प्रसार के लिए जी तोड़ मेहनत कर रहे हैं। कई सालों से इस क्षेत्र में काम कर रहे मयंक गर्ग को खुद यकीन नहीं हो रहा है कि उनकी किताबें और लेक्चर इतनी प्रसिद्धि पा रहे हैं। मयंक कहते हैं कि वैदिक गणित पर किताब लिखकर भारत के ज्ञान को दुनिया के कोने कोने तक ले जाना मेरा मकसद था। इस किताब से पैसा कमाने के बारे में कभी सोचा भी नहीं। बता दें कि मयंक को कई यूरोपीय देशों के कॉलेज वैदिक गणित और एप्टिट्यूड पर लेक्चर देने के लिए आमंत्रित भी कर चुके हैं।

अब मयंक इसे और बढ़े स्तर पर ले जाना चाहते हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को प्रेरणा मानने वाले मयंक ने कोरोना काल में भी काफी मेहनत की। उनका कहना है कि कोविड के दौरान बच्चे काफी परेशान थे। उनको समझ नहीं आ रहा था की समय का सदुपयोग कैसे करें। इसी दौरान हमने गणित को आसान करते हुए बच्चों में रुचि जगाई। ना सिर्फ भारत बल्कि यूरोप, अमेरिका और सिंगापुर के बच्चों को भी भारतीय गणित के बारे में सिखाया। मयंक का सपना है कि वह सरकारी स्कूलों तक इसे लेकर जाएं। जिससे हर वर्ग का विद्यार्थी सक्षम बन सके।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

To Top