उत्तराखण्ड

उत्तराखन्ड: बेटियों ने किया इक बार फिर कमाल, मिला इंस्पायर अवार्ड

Uttarakhand News : पिथौरागढ़ की रहने वाली और राजकीय इंटर कॉलेज में पढ़ने वाली ( कुंडार की ) तीन छात्राओं का चयन भारत सरकार की विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग के इंस्पायर अवार्ड के लिए चयन हुआ है प्रत्येक छात्रा को अवार्ड के रूप में ₹10000 की धनराशि प्राप्त होगी विद्यालय के भौतिक प्रवक्ता दिनेश चंद्र भट्ट और विद्यालय के प्रभारी प्रधानाचार्य डॉ भुवन चंद्र धारियाल ने बताया कि इस वर्ष के इंस्पायर अवार्ड के लिए कक्षा 6 की शबनम बिष्ट कक्षा 8 की रंजना बिष्ट और कक्षा 10 की कंचना नेगी का चयन हुआ है। उन्होंने बताया कि पिछले 3 वर्ष मैं दिनेश चंद्र भट्ट के मार्गदर्शन में विद्यालय के 11 बच्चों को इंस्पायर अवार्ड के लिए भारत सरकार ने द्वारा चुना गया है।

जानिए क्या है इंस्पायर अवार्ड-

: इंस्पायर अवार्ड्स मानक योजना भारत सरकार द्वारा विज्ञान और प्रौद्योगिकी डिपार्टमेंट के माध्यम से संचालित होने वाले अनेक कार्यक्रमों में से एक है जिसके अंतर्गत देश के समस्त राज्य के मान्यता प्राप्त सरकारी , गैर -सरकारी, और निजी विद्यालयों के कक्षा 6 से कक्षा 10 तक के होनहार छात्र और छात्राओं को सम्मान देने हेतु गठित किया …

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड : हल्द्वानी का यह युवा सीडीएस परीक्षा का ऑल इंडिया टॉपर बना, दीजिये बधाई


इस योजना के तहत होनहार छात्रों को आर्थिक रूप से सम्मानित किया जाता है। इसमें कक्षा छह से 10 वीं तक के विद्यार्थी प्रतिभाग कर सकते हैं। इसमें चयनित प्रत्येक विद्यार्थी के उनके खाते में डीबीटी के माध्यम से धनराशि भेजी जाती है।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड: शुभम बने युवाओं के लिए मिसाल, बीटेक के बाद स्वयं का खोला रोजगार

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

To Top