उत्तराखण्ड

उत्तराखंड: आखिर क्यों महज 19 साल में ही अंकिता निकल पड़ी नौकरी करने को? पढ़िए पूरी खबर

Uttrakhand News: राज्य के पौड़ी गढ़वाल जिले के डोभ श्रीकोट की रहने वाली अंकिता भंडारी की जिस निर्मम तरीके से हत्या करी गई वह बेहद दर्दनाक और इंसानियत को शर्मसार करने वाली है। आज जस्टिस फॉर अंकिता की गूंज से पूरी उत्तराखंड कि धरती गूंज रही है। ऐसे में सवाल यह उठा है कितनी नन्ही सी उम्र में अंकिता को नौकरी करने की आखिर क्या मजबूरी आ गई थी ?

तो आज हम आपको बताते हैं कि क्यों आखिर अंकिता को 19 साल में रिसोर्ट की नौकरी करनी पढ़ी। दरअसल अंकिता बेहद गरीब परिवार से ताल्लुक रखती थी।

परिवार की आर्थिक सुधारने के लिए अंकिता ने खुद जिम्मेदारी उठाई थी। जिसके लिए उसने वनंत्रा रिजॉर्ट में काम करने का फैसला लिया। भविष्य के गर्भ में क्या है ये उस मासूम को कहां पता था ।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड: दिवंगत अंकिता भंडारी के माता- पिता की आंखे बेटी को याद कर हुईं नम, सीबीआई जांच की करी मांग ।

आपको बता दें कि अंकिता का परिवार कोरोना काल से अपने पैतृक गांव में ही रह रहा था। कोरोना काल में काम बंद हो जाने व कमरे का किराया न दे पाने के कारण
अंकिता के पिता विरेन्द्र अपने पूरे परिवार को पौड़ी से लेकर अपने गांव लौट आए थे। अंकिता पढ़ाई में बहुत अच्छी थी। अंकिता ने पौड़ी के एक प्रतिष्ठित स्कूल से इंटरमीडिएट की पढ़ाई पूरी करने के उपरांत देहरादून से होटल मैनेजमेंट का कोर्स किया था। लेकिन आर्थिक स्थिति ठीक न होने के कारण अंकिता को सिर्फ 1 साल में ही देहरादून से वापस लौटना पड़ा अपने होटल मैनेजमेंट के कोर्स को बीच में आधा छोड़कर और वापस घर आना पड़ा । जिसके बाद अंकिता ने वनंत्रा रिजॉर्ट में रिसेप्शनिस्ट के पद पर नौकरी ज्वाइन की थी। ताकि वह अपने परिवार की आर्थिक स्थिति को सुधार सकें भविष्य में होने वाली अपनी जान के खतरे को वो भाप न सकी।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड: इसे कहते हैं किस्मत का चमकना! यहां चमकी देवभूमि के इस युवा की किस्मत, बना करोड़पति

रिसॉर्ट के मालिक ने कई बार उससे अपने साथ शारीरिक संबंध बनाने को कहा इतना ही नहीं रिजल्ट में आने वाले लोगों को स्पेशल सर्विस देने को भी कहा । किंतु अंकिता गरीब अवश्य थी लेकिन अपनी इज्जत के साथ कोई भी समझौता उसे मंजूर नहीं था और उसने पैसे से ऊपर अपने आत्मसम्मान और अपनी इज्जत को रखा यह बात रिजॉर्ट के मालिक को सहन नहीं हुई और उस दरिंदे मालिक ने कुछ लोगों के साथ मिलकर निर्मम तरीके से अंकिता की हत्या कर दी।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

संपादक –
नाम: चन्द्रा पाण्डे
पता: पटेल नगर, लालकुआं (नैनीताल)
दूरभाष: +91 73027 05280
ईमेल: [email protected]

© 2021, UK Positive News

To Top