उत्तराखण्ड

उत्तराखंड: इंडियन आइडल के विनर पवनजीत जब पहुंचे चंपावत तो जानिए अपने करियर से लेकर अरुनिता तक उन्होंने क्या कहा

Uttarakhand New :इंडियन आईडल 12 के विनर रहे चंपावत के पवनदीप राजन ने कक्षा पांचवी में ही पढ़ाई के दौरान गीत – संगीत के क्षेत्र के लिए कड़ी मेहनत और प्लानिंग करनी शुरू कर दी थी और इसका परिणाम यह है कि आज पूरी दुनिया में पवनदीप इंडियन आईडल 12 के विनर बन कर उत्तराखंड का और अपना नाम रोशन कर चुके है ।

रक्षाबंधन के पावन पर्व पर पवनदीप राजन चंपावत पहुँचे।उन्होंने अपनी जीत की खुशी मीडिया से साझा की और बताया कि 2015 में द वॉइस इंडिया विनर बनने के बाद 2021 में इंडियन आइडल विनर बनने तक का उनका सफर काफी चुनौतियों भरा और मुश्किल रहा। हालांकि वॉइस ऑफ इंडिया बनने के बाद उन्हें उतनी खास पहचान और काम न मिल सका किंतु आज इंडियन आईडल जीतने के बाद उन्हें नेम और फेम तो मिला ही साथ ही काम भी मिला है । पवनदीप आपने जीत को लेकर बहुत ही खुश हैं उनका कहना है कि उन्होंने इस नेम और फेम को पाने के लिए बहुत छोटे पन से ही अर्थात कक्षा 5 से ही हर चीज की प्लानिंग करनी शुरू कर दी थी।

छोटे बड़े कई शो उन्होंने किए हैं। इसके अलावा उन्होंने मराठी फिल्म में एक्टिंग की है ।अभय देओल के साथ 1962 वेब सीरीज में वह एक रेडियो ऑपरेटर का किरदार भी निभा चुके हैं ।उनका कहना था कि कोरोनावायरस के आने के बाद जब लोक डाउन लगा तो उस दौरान वे फिर घर वापस आ गए थे । जब उन्हें इंडियन आईडल के ऑडिशन का पता चला तो उन्होंने अपना एक वीडियो बनाकर भेज दिया। लेकिन यह उन्होंने सपनों में भी नहीं सोचा था कि मैं इसे जीत लूंगा ।पवनदीप अपनी मुस्लिसी के दिनों को याद करते हुए कहते हैं कि मुंबई जाने के लिए उनके जेब में ₹10 भी नहीं थे । दोस्तों और कुछ खास रिश्तेदारों से उधार मांग कर जैसे तैसे पैसों का इंतजाम कर कर मैं मुंबई पहुंच गया ।वहां ऑडिशन में सिलेक्ट होने के बाद पहला गाना भी बड़े डर के साथ गाया ।इसके बाद तो जैसे डर कहीं गायब सा हो गया और हौसले बुलंद होते गए।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड: यूरोप अमेरिका में बढ़ाया देवभूमि के इस युवा ने उत्तराखंड सहित पूरे भारत का मान, दीजिए बधाई

इंडियन आईडल फाइनल में अरूणिता कांजीलाल ,सयाली कामले निहाल ,सन्मुख प्रिया , दानिश जैसे दिग्गज गायकों के साथ मुकाबला हुआ जो कि मेरे लिए आसान नहीं था ।आगे पवनदीप का कहना था कि मुझे पूरे देश से प्यार मिला जिसकी वजह से आज मैं यहां तक पहुंच पाया हूं । ये जीत चंपावत जैसे छोटे शहर में रहने वाले उन सभी लोगों की है जो सपना देखते हैं कि वह किसी कि वे किसी बड़े प्लेटफार्म पर 1 दिन गाएंगे । पवनदीप कहते हैं कि मैं सभी युवाओं से कहना चाहता हूं कि सपने जरूर देखें लेकिन उन सपनों को सच करने के लिए मेहनत करना ना छोड़े वह सपने तभी सच होंगे जब आप दिन रात एक कर के मेहनत करेंगे आगे पवनदीप में अपने भविष्य की प्लानिंग सांझा करते हुए बताया कि मैं एक ऐसा मंच खोलना चाहता हूं जो संगीत के क्षेत्र में आने वाले बच्चों को तराशे और निखारे ।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड- पवनदीप और अरुणिता का नया Video आया, अरुणिता को प्रपोज करते नजर आए PAWANDEEP

आगे पवनदीप ने अपने भविष्य की प्लानिंग को बताते हुए कहा हम सभी जो भी को – कंटेस्टेंट रहे इंडियन आईडल में अब एक ही जगह पर फ्लैट ले रहे हैं । अरूणिता मेरी सबसे अच्छी दोस्त हैं वैसे तो इंडियन आईडल के सारे फाइनलिस्ट एक से एक उम्दा थे पर मुझे लगता था की अरुनिता बाजी मार लेगी और मैं खुद के बारे में सोचता था कि मैं तीसरे या दूसरे नंबर पर रहूंगा । मैंने कभी भी नहीं सोचा था कि मैं इंडियन आईडल जीतूंगा । मुंबई में सोनी टीवी द्वारा एक बंगला व स्टूडियो बना कर दिया गया है ।कल ही ऑक्टोपस एंटरटेनमेंट की ओर से 30 गानों का ऑफर भी मुझे मिला है ।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

संपादक –
नाम: चन्द्रा पाण्डे
पता: पटेल नगर, लालकुआं (नैनीताल)
दूरभाष: +91 73027 05280
ईमेल: [email protected]

© 2021, UK Positive News

To Top