उत्तराखण्ड

उत्तराखंड- इस खिलाड़ी ने 2 साल बाद की शानदार वापसी, T20 डेब्यू में ठोका अर्धशतक

हल्द्वानी- सैयद मुश्ताक अली टी-20 ट्रॉफी में उत्तराखंड का प्रदर्शन निराशाजनक रहा। टी-20 टूर्नामेंट में बल्लेबाज बड़ा स्कोर खड़ा करने में कामयाब नहीं हुए। नतीजा यह रहा कि पहली बार उत्तराखंड टीम टूर्नामेंट में एक भी जीत हासिल करने में कामयाब नहीं हुई। साल 2021 सीजन में टीम को लगातार पांच मुकाबलों में हार का सामना करना पड़ा। आने वाले वनडे और रणजी ट्रॉफी के लिए चयनकर्ताओं का सिर दर्द अब बढ़ गया होगा… देखना दिलचस्प होगा कि क्या टीम में कुछ बड़े बदलाव होते हैं या नहीं।

टी-20 टूर्नामेंट में उत्तराखंड की ओर से पांच मुकाबलों में केवल एक फिफ्टी निकली। संयम अरोड़ा ने चंडीगढ़ के खिलाफ शानदार 46 गेंदों में 68 रन बनाए। उनके बल्ले से 8 चौके और तीन छक्के निकले। खासबात यह रही कि संयम का यह डेब्यू मुकाबला था। संयम अरोड़ा उत्तराखंड के लिए साल 2018-19 में अंडर-19 टीम का हिस्सा रहे थे। उनके बल्ले से कूच बेहार ट्रॉफी के 9 मैचों में 1080 रन निकले थे। संयम का सर्वश्रेष्ठ स्कोर 347 रन रहा था।संयम ने अपना तिहरा शतक पुडुचेरी के खिलाफ बनाया था। पहले मैच में संयम 99 रन पर आउट हुए थे और क्वार्टर फाइनल में 72 रन बनाए।

हालांकि इसके बाद वह गलत दस्तावेज जमा करने की वजह से पकड़े गए थे और बीसीसीआई ने उनपर दो साल का बैन लगा दिया।इसके बाद उन्होंने साल 2020-2021 सीजन में वापसी की थी लेकिन बैन की समय सीमा पूरी नहीं होने की वजह से उन्हें मौका नहीं मिला। इस बार उन्हें मौका मिला तो उन्होंने डेब्यू में फिफ्टी जमाकर उत्तराखंड के लिए इतिहास रचा। बता दें कि साल 2018-19 में अंडर-19 में शानदार प्रदर्शन के बल पर ही अवनीश सुधा ने भारतीय अंडर-19 टीम में भी जगह बनाई थी और संयम भी काफी नजदीक पहुंच गए थे लेकिन उन पर बैन लग गया। संयम के डेब्यू में प्रदर्शन से साफ हो गया कि वह इन सभी चीजों को भूलकर आगे बढ़ चुके हैं और अंडर-19 की तरह सीनियर टीम में भी छाप छोड़ने के लिए तैयार हैं।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top