उत्तराखण्ड

उत्तराखंड: देवभूमि की इस नन्हीं बच्ची ने किया कमाल, छोटी सी उम्र में किया उत्तराखंड का नाम रोशन

https://youtu.be/MVh6ACrlF7s

Uttarakhand News: आज उत्तराखंड का नाम पूरे विश्व में उत्तराखंड के लाल उत्तराखंड की बेटियां रोशन कर रही है। उत्तराखंड में प्रतिभाओं की कमी नहीं है यहां के लोगों ने साबित किया है। उत्तराखंड की ऐसी ही प्रतिभावान बेटी दक्षिणा सिंह से आज हम आपको रूबरू करवाएंगे।

दक्षिणा सिंह अभी मात्र 10 वर्ष की है, लेकिन उन्होंने जो करके दिखाया उससे ये साबित होता है कि प्रतिभा की कोई उम्र नहीं होती। दरअसल नन्ही मुन्नी दक्षिणा ने वर्लिन ( जर्मनी हुई विश्व हिंदी दिवस पर कविता एंड क्विज प्रतियोगिता में द्वितीय स्थान प्राप्त कर समस्त उत्तराखंड का नाम पूरी दुनिया में रोशन किया है।

दक्षिणा सिंह लेक्स इंटरनेशनल स्कूल भीमताल की कक्षा चार की छात्रा है। दक्षिणा के पिता का नाम आलोक सिंह है , एवं माता का नाम डॉक्टर प्रीति सिंह है । दक्षिणा मूल रूप से भीमताल उत्तराखंड के रहने वाली है हैं।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड :भवाली निवासी गंगा बुधलाकोटी ने पहली बार में टॉप की UKPSC की परीक्षा, बनी सरकारी अफसर

दक्षिणा उत्तराखंड की एकमात्र प्रतिभागी हैं जिन्होंने एक साथ दो प्रतियोगिताओं कविता एवं क्विज में स्थान हासिल किया है। बर्लिन एम्बेसी द्वारा दक्षिणा सिंह को प्रमाण पत्र एवं पुरस्कार हेतु आमंत्रित किया गया है।

यह भी पढ़ें 👉  लोककला- कुमाऊं की पारंपरिक कला को संवारने में जुटी पहाड़ की बेटी, ऐपण कला से गुंजन ने बनाई नई पहचान

दक्षिणा सिंह की इस उपलब्धि से जहां उनके परिजनों में खुशी का माहौल है वहीं दूसरी ओर उनके क्षेत्र में भी खुशी की लहर है।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड: अपनी लेखनी से लाखों पाठकों का दिल जीतने वाली उत्तराखंड की इस प्रोफेसर की कहानी पर बनेगी फिल्म

यूके पॉजिटिव न्यूज़ की ओर से दक्षिणा सिंह को हार्दिक बधाइयां एवं शुभकामनाएं।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

To Top