उत्तराखण्ड

उत्तराखंड:देवभूमि के इस गाँव के ग्रामीणों ने पेश की इंसानियत की मिसाल, कलयुग मे भी दिखाई नेक दिली

Uttrakhand News: आज इंसान इस हद तक स्वार्थी हो गया है कि खुद के भले के अलावा उसे कुछ भी लेना देना नही रहा । आपने अक्सर देखा होगा कि सड़क पर जब कभी कोई अनहोनी या हादसे होते है , एक्सीडेंट का रूप में तो बहुत से लोग दूर खड़े होकर तमाशा देखते है । कई लोग तो ऐसे भी है जो घायल होए लोगों का वीडियो बनाते हैं बजाय घायल को मेडिकल चिकित्सा दिलाने के या हॉस्पिटल ले जाने के ।

इंसान का इंसान के प्रति दया भाव खत्म हो रहा है । यदि वीडियो बनाने की जगह घायल को तुरंत हॉस्पिटल ले जाया जाए तो उसकी जान बच सकती है ।

आज के इस कलयुग दौर से बिल्कुल अगल देवभूमि के उत्तरकाशी के सर बडियार पट्टी के डिगाड़ी ग्राम के कुछ ग्रामीणों ने इंसानियत और नेक दिली का ऐसा उदहारण पेश किया है जो तारीफ के काबिल है ।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड: देवभूमि के इस मोटिवेशनल स्पीकर ने अपने नाम किया वर्ल्ड रिकॉर्ड, दीजिए बधाई

ग्रामीणों के इस सराहनीय कार्य से ऐसे लोगो को सीखना चाहिए जो बस खुद का स्वार्थ देखते हैं , खुद का फायदा ढूढ़ते हैं ।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड:भाई वाह ! पहाड़ का एक और लाल एनडीए में हुआ चयनित बधाई तो बनती है

दरसअल उत्तरकाशी के सर बडियार पट्टी के दिगाड़ी ग्राम में रहने वाली महिला शकुंतला देवी( 52) का स्वास्थ्य अत्यधिक खराब होने के कारण वो चल कर अस्पताल तक जाने में असमर्थ थी ।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड: भक्ति हो तो ऐसी उत्तराखंड के ये युवक पैदल ही निकल पड़े खाटू श्याम के दर्शन को, जानिए

ऐसे बुरे समय मे शकुन्तला के गावँ के कुछ लोग मदद के लिए आगे आये । उन्होंने शकुंतला को डंडी – कंडी पर बिठा कर आठ किलोमीटर तक पैदल उपचार के लिए बड़कोट अस्पताल पहुँचाया।

हालांकि शकुंतला की हालत को देखते हुवे वहां के डॉक्टरों ने उन्हें देहरादून के हायर सेंटर में रेफर किया है ।

गाँव के लोगो की इस नेक दिली की हर तरफ चर्चा हो रही है ।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

संपादक –
नाम: चन्द्रा पाण्डे
पता: पटेल नगर, लालकुआं (नैनीताल)
दूरभाष: +91 73027 05280
ईमेल: [email protected]

© 2021, UK Positive News

To Top