उत्तराखण्ड

उत्तराखंड:देवभूमि के इस युवा के जबरा फैन बन गए मोदी जी ,जम कर करी तारीफ

उत्तराखंड के भारत के लक्ष्य सेन ने कॉमनवेल्थ गेम्स (CWG 2022) में पुरुष सिंगल्स का गोल्ड मेडल जीत लिया है। उन्होंने फाइनल मुकाबले में मलेशिया के त्जे योंग को 19-21, 21-9, 21-16 से हराया।पहली बार कॉमनवेल्थ गेम्स में हिस्सा ले रहे 21 वर्षीय लक्ष्य सेन ने भारत को 20वां गोल्ड दिलाया। लक्ष्य को पहले सेट में का हार का सामना करना पड़ा था और उन्होंने वहां से वापसी कर पदक को भारत के नाम किया है। इससे पहले विश्व रैंकिंग में 10वें स्थान पर काबिज लक्ष्य ने सिंगापुर के जिया के खिलाफसेमीफाइनल में जीत दर्ज की थी। उन्होंने कड़े मुकाबले को 21-10, 18-21, 21-16 से अपने नाम किया था ।

उत्तराखंड के अल्मोड़ा के रहने वाले लक्ष्य की कामयाबी ने पूरे देश को खुशी का मौका दिया। अल्मोड़ा में भी खुशी का माहौल है। लक्ष्य सेन का जन्म 16 अगस्त 2001 में अल्मोड़ा (उत्तराखंड) में हुआ। इनके पिता का नाम धीरेन्द्रे के. सेन है, जो देश के जाने-माने बैडमिंटन कोच में से एक हैं वर्तमान में यह प्रकाश पादुकोण एकेडमी से जुड़े हुए हैं। इनकी माता निर्मला सेन जो एकअंतराष्ट्रीय बैडमिंटन खिलाड़ी है। लक्ष्य सेन ने अपना करियर अपने पिता के साथ बैडमिंटन खेलकर शुरू किया।

2016 में जूनियर बैडमिंटन चैंपियनशिप में शानदार प्रदर्शन कर कांस्य पदक जीता। इसके साथ ही इन्होने सीनियर अंतराष्ट्रीय स्तर पर प्रतिस्पर्धा की और 2016 में इंडिया इंटरनेशनल सीरीज टूर्नामेंट में गोल्ड पदक जीतकर पुरुष एकल का खिताब जीता। इसके बाद उत्तराखंड का लक्ष्य अपने लक्ष्य से कभी नहीं भटका और लगातार कई खिताबों को अपने नाम करने में कामयाब हुआ।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड-(Good News) स्नेह राणा को मिली बड़ी जिम्मेदारी, इंग्लैंड दौरे पर रचा था इतिहास

वर्ष 2022 में इन्होने इंडिया ओपन फाइनल में सिंगापुरके मौजूद विश्व चैंपियन लोह किन यू को हराकर अपना पहला सुपर 500 खिताब जीता। इस जीत के बाद उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की थी। वहीं लक्ष्य के CWG में पदक जीतने पर प्रधानमंत्री ने ट्विट किया और उन्हें देश की शान कहा।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

To Top