उत्तराखण्ड

उत्तराखंड: इसे कहते हैं शानदार वापसी,देवभूमि के इस लाल ने रणजी के पहले ही मैच में झटक लिए चार विकेट

Uttarakhand News : लाजमी है कि किसी भी खेल में फिटनेस का बड़ा रोल रहता है। चोटिल होने के बाद क्रिकेट जैसे खेल में दमदार वापसी करना कोई मामूली बात नहीं है। लेकिन उत्तराखंड में बागेश्वर एक्सप्रेस नाम से प्रसिद्ध दीपक धपोली ने वापसी की है और दमदार तरीके से की है। चोट की वजह से साल 2019 से क्रिकेट से दूर रहे दीपक धपोला ने रणजी ट्रॉफी में शानदारी वापसी की है। उन्होंने पहले ही मुकाबले में उत्तराखंड की टीम को चार विकेट दिलाकर गजब खेल दिखाया।

बता दें कि बागेश्वर निवासी दीपक धपोला को उत्तराखंड क्रिकेट टीम की गेंदबाजी की रीढ़ कहा जाता है। अब ऐसा क्यों कहा जाता है, ये उनके रिकॉर्ड खुद ही बयां करते हैं। दरअसल साल 2018 के सबसे पहले रणजी सीजन में ही दीपक ने गेंदबाजी से कमाल कर दिया था। अगर उत्तराखंड टीम को प्लेट ग्रुप से इलीट ग्रुप जाने में किसी का सबसे ज्यादा योगदान रहा तो वो दीपक ही थे।

दीपक ने उस रणजी सीजन में खेले आठ मुकाबलों में कुल 45 विकेट चटकाए थे। इस दौरान उनका औसत 15.51 का रहा था। दीपक ने दो मैच में दस से ज्यादा विकेट हासिल किए थे जबकि एक मैच में नौ विकेट झटके थे। दीपक ने बिहार के खिलाफ 09 विकेट, मणिपुर के खिलाफ 12 विकेट और मेघालय के खिलाफ 11 विकेट लिए थे। इस दौरान एक पारी में उनका सबसे अच्छा प्रदर्शन मणिपुर के खिलाफ रहा था। जब उन्होंने पहली पारी में 50 रन देकर सात बल्लेबाजों को पवेलियन का रास्ता दिखाया था।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड- देवभूमि की बेटी शीतल को मिलेगा तेनजिंग नोर्गे नेशनल एडवेंचर अवॉर्ड, राष्ट्रपति करेंगे सम्मानित, दीजिये बधाई

लेकिन कहते हैं ना कि समय एक सा नहीं रहता। दरअसल साल 2019 में दीपक चोटिल हो गए थे। इसके बाद उन्होंने तीन साल तक क्रिकेट नहीं खेला। इस दौरान दीपक अपनी फिटनेस पर काम कर रहे थे। लेकिन अब दीपक ने वापसी कर ली है। बता दें कि उत्तराखंड की टीम इस वक्त सर्विसेज के खिलाफ इस रणजी सीजन का पहला मुकाबला खेल रही है। जिसमें सर्विसेज उत्तराखंड ने टॉस जीतकर सर्विसेज को बल्लेबाजी का न्योता दिया है। सर्विसेज की टीम 176 रन ही बना सकी।

यह भी पढ़ें 👉  चम्पावत- गांव के इस युवा ने कड़ी मेहनत से पास की लोक सेवा आयोग की परीक्षा, मिला यह मुकाम

इस मुकाबले में सर्विसेज के पहले दो विकेट ही दीपक ने चटकाए और टीम बैकफुट पर धकेला। मैच में दीपक ने चार जबकि दीक्षांशु नेगी ने दो विकेट लिए। यही कारण है सर्विसेज की टीम बड़ा स्कोर खड़ा करने में विफल रही। इसी तरह अपनी वापसी का एहसास दीपक ने सभी को करा दिया है। फैन्स को उम्मीद है कि दीपक 2018 सीजन का जादू एक बार बिखेरेंगे। विराट कोहली के कोच राजकुमार शर्मा से क्रिकेट के गुर सीखने वाले दीपक धपोला अपनी गेंदबाजी की धार से विरोधियों की नाक में दम करेंगे, हम भी यही उम्मीद करते हैं।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

To Top