उत्तराखण्ड

उत्तराखंड: हल्द्वानी के इस युवक का आइडिया प्लांट आर्बिट कर गया काम, टर्नओवर सुनके उड़ जाएंगे आपके होश

Uttarakhand News : कहते हैं कि प्रतिभा उम्र की मोहताज नहीं होती ही । और ऐसा ही कुछ कर दिखाया है हल्द्वानी के रहने वाले गगन त्रिपाठी ने ।

गगन की उम्र अभी मात्र 21 वर्ष है और इनके प्लांट ऑर्बिट (plant Orbit) का टर्नओवर 30 लाख के करीब है । इस बात को सुन के सभी के होश उड़े हैं … लेकिन गगन के लिए सफलता की ये राह इतनी आसान नही थी ।

हल्द्वानी के मुखानी चौराहे के पास रहने वाले गगन त्रिपाठी बीएससी एग्रीकल्चर के छात्र हैं, और बचपन से ही पेड़ पौधों से लगाव होने के चलते उन्होंने पढ़ाई के साथ साथ बतौर स्टार्टअप प्लांट ऑर्बिट नाम से ऑनलाइन नर्सरी शुरू की। केवल 3 सालों में अपनी लगन और मेहनत से पढ़ाई के साथ साथ प्लांट ऑर्बिट plantorbit.com ऑनलाइन नर्सरी के जरिए गगन ने अपना टर्नओवर 30 लाख पहुंचा दिया। वर्तमान में गगन उत्तर भारत सहित कई राज्यों में 200 प्रजातियों के पौधे प्लांट ऑर्बिट के माध्यम से अपने क्लाइंट तक पहुंचा रहे हैं।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड- (शानदार) भारत केसरी खिताब जीतने वाले लाभांशु राज्य के बने पहले पहलवान, ऐसे किया विरोधियों को चित

बता दें कि गगन त्रिपाठी को शुरुआत में दिक्कतें का सामना करना पड़ा । लेकिन धीरे-धीरे डिजिटल मीडिया और सोशल मीडिया का इस्तेमाल के साथ ही पेड़ पौधों के ज्ञान और लोगों तक सही दाम में पौधों की डिलीवरी ने उनके काम को तेजी के साथ आगे बढ़ाया।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड: देवभूमि की यह बेटी बनी सेना में लेफ्टिनेंट, इतने बड़े दुख के बाद भी हासिल की मंजिल

गगन दावा करते हैं कि आज के दौर में इंडोर प्लांट्स सबसे सस्ते दामों में प्लांट ऑर्बिट ही दे सकता है। गगन के मुताबिक जैसे-जैसे काम बढ़ रहा है तो वह और भी लोगों को अपने इस रोजगार से जोड़ रहे हैं। प्लांट ऑर्बिट गूगल में भारत की टॉप फाइव कंपनियों में सर्चिंग रेंज में आने लगी है।

21 साल की उम्र में प्लांट ऑर्बिट को खड़ा करने वाले गगन का कहना है की पहली बार जब वह किसी सेमिनार में भाग लेने के लिए गए थे, तो वहां उन्हें इनडोर प्लांट्स तथा आउटडोर प्लांट्स के रेट के बारे में जानकारी मिली। जिसके बाद उन्होंने कई नर्सरी का विजिट किया। तो उन्हें लगा कि वह बेहद कम दाम में लोगों को पौधे उपलब्ध करा सकते हैं। लिहाजा आज के डिजिटल दौर में उन्होंने प्लांट ऑर्बिट की स्थापना की, जो आज बेहतर दिशा में चल रहा है। गगन का कहना है कि अगले 5 से 10 सालों में वह प्लांट ऑर्बिट को भारत का सबसे बड़ा ऑनलाइन प्लांट प्लेटफार्म बनाना चाहते हैं। और लोगों को सबसे कम दाम में पौधे उपलब्ध कराना उनकी पहली प्राथमिकता है।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड: देवभूमि के फौजी बहादुर सिंह धौनी का कॉमनवेल्थ गेम्स के लिए चयन, दीजिए बधाई

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

To Top