उत्तराखण्ड

उत्तराखंड: ईमानदारी आज भी है दुनिया में, इसे साबित किया है उत्तराखंड के इस युवा ने

Uttarakhand News: कहते हैं ईमानदारी सर्वोत्तम नीति है किंतु आज के इस कलयुग में ईमानदार लोग और ईमानदारी बहुत कम देखने को मिलती है । लेकिन यह भी सत्य है की ईमानदार व्यक्ति का आदर जगह होता है। बचपन से ही हम सभी ने किताबों के माध्यम से , अपने शिक्षकों के माध्यम से और अपने माता-पिता के माध्यम से ईमानदारी के बारे में बहुत सी बातें सीखी और सुनी हैं । बचपन में हमें बताया जाता था कि इमानदारी से बढ़कर कुछ भी नहीं है किंतु आज के समय में इन बातों का अब जैसे महत्व ही ना रह गया हो।

हर तरफ बेईमानी – भ्रष्टाचार पूरी तरह से अपनी जड़े बनाए हुए हैं, किंतु ऐसे घोर कलयुग में भी उत्तराखंड के एक युवा ने ईमानदारी की अनोखी मिसाल पेश की है।

जी हां बीते दिनों उत्तरकाशी जिले में प्रियंका भट्ट नामक महिला एक महिला ने अपना पर्स जिसमें कि ₹13000 नगद थे साथ ही महिला का एटीएम , महिला के कुछ जरूरी कागजात समेत कहीं खो दिया था ।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड- गर्व के पल, बेटी बनी असिस्टेंट कमांडेंट तो इंस्पेक्टर पिता ने किया सैल्यूट

महिला का पर्स विश्वनाथ चौक सीजन ड्यूटी में होमगार्ड के पद पर कार्यरत गजेंद्र सिंह पवार नामक व्यक्ति को मिला। फिर क्या! पर्स में मिले कागजात से पता लगा कि पर्स प्रियंका भट्ट (निवासी ग्राम चिंवा नाल्ड उत्तरकाशी ) का है। होमगार्ड गजेंद्र सिंह पवार ने तुरंत प्रियंका भट्ट को संपर्क किया उन्हें सूचित किया कि उनका पर्स उनके पास है ।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड- मानसी ने भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद में वैज्ञानिक के पद पर टॉप फाइव में बनाई जगह, दीजिए बधाई

महिला अपने पति के साथ होमगार्ड गजेंद्र की ड्यूटी स्थल पर आकर अपना पर्स वापस ले गई , उसमें ₹13000 और जरूरी कागजात को देखकर महिला बहुत खुश हुई और होमगार्ड गजेंद्र सिंह को धन्यवाद देते हुए बोली कि आप जैसे लोगों से ही दुनिया चल रही है । आप ईमानदार और अच्छे हैं। ईश्वर आपका भला करें।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

To Top