उत्तराखण्ड

उत्तराखंड- (शानदार) भारत केसरी खिताब जीतने वाले लाभांशु राज्य के बने पहले पहलवान, ऐसे किया विरोधियों को चित

कुश्ती पहलवान लाभांशु शर्मा

Rishikesh News- ऋषिकेश के युवा अंतरराष्ट्रीय कुश्ती पहलवान लाभांशु शर्मा ने तमिलनाडु के मदुरई शहर में स्पोर्ट्स एसोसिएशन तमिलनाडु के तत्वाधान में आयोजित दो दिवसीय (23 से 24 जुलाई) भारत केसरी कुश्ती दंगल 2021 में स्वर्ण पदक जीतकर उत्तराखंड का नाम रोशन किया। तमिलनाडु में आयोजित दंगल प्रतियोगिता के फाइनल मुकाबले में लाभांशु ने तमिलनाडु के पहलवान एस राधाकृष्णन को चार खाने चित कर के विजेता ट्रॉफी का खिताब अपने नाम किया।

उत्तराखंड कुश्ती संघ के सीनियर कोच एवं लाइफ टाइम अचीवमेंट अवार्ड से सम्मानित पवन कुमार ने लाभांशु की जीत पर खुशी जाहिर करते हुए इस बात की पुष्टि की और बताया कि उत्तराखंड राज्य बने हुए 20 साल से अधिक हो चुका है लेकिन कोई भी उत्तराखंड का पहलवान अभी तक भारत केसरी का खिताब नहीं जीत पाया था। लाभांशु ने आज भारत केसरी का टाइटल जीतकर 20 वर्षों का सूखा खत्म कर दिया।

अंतरराष्ट्रीय गढ़वाल महासभा के अध्यक्ष डॉ राजे सिंह नेगी ने बताया कि ऋषिकेश नहीं बल्कि उत्तराखंड के लिए भी यह गर्व की बात है कि लाभांशु ने देश का सबसे पुराना खिताब जीता और ऐसा करने वाले उत्तराखंड के पहले पहलवान बनने का गौरव पाया। डॉ राजे नेगी ने बताया कि लाभांशु इससे पहले भी कुश्ती में अपना लोहा मनवा चुके हैं और राज्य स्तर पर 15 स्वर्ण पदक, राष्ट्रीय स्तर पर 10 पदक और इंटरनेशनल कुश्ती प्रतियोगिता में भी दो स्वर्ण पदक और 1 सिल्वर पदक जीत चुके हैं। नेगी ने बताया कि लाभांशु के वापस तीर्थ नगरी लौटने पर उनका भव्य स्वागत एवं अभिनंदन किया जाएगा।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top