उत्तराखण्ड

उत्तराखंड: गणतंत्र दिवस परेड में शामिल होंगी उत्तराखंड की झांकियां,बाबा बद्री के दर्शन करेगी पूरी दुनिया

Uttarakhand News : देश की राजधानी में हर साल राजपथ पर गणतंत्र दिवस की परेड होती है। जिसमें अनेकों राज्यों की सांस्कृतिक झांकियों को प्रस्तुत किया जाता है। राजपथ पर होने वाली परेड में उत्तराखंड की झांकी नजर आएगी। गणतंत्र दिवस के मौके पर होने वाली परेड में उत्तराखंड के डोबरा चांठी पुल की झांकी देश दुनिया के सामने प्रस्तुत की जाएगी ।

इसके बाद टिहरी बांध और फिर डोबरा चांठी पुल और इसके बाद करोड़ों लोगों की आस्था के केंद्र भगवान बद्री विशाल के मंदिर को दर्शाया जाएगा। उन्होंने बताया कि इस परेड में उत्तराखंड के सांस्कृतिक दलों की प्रस्तुतियां भी शामिल होंगी। जिनमें कुमाऊं सांस्कृतिक लोक कला दर्पण लोहाघाट, चंपावत के 16 कलाकारों का सांस्कृतिक दल झांकी के साथ चलेगा।

गौरतलब है कि हमेशा से उत्तराखंड की झांकी गणतंत्र दिवस के मौके पर होने वाली परेड का आकर्षण केंद्र रहती है। इस बार भी देवभूमि की संस्कृति को परेड में शामिल किया जाएगा। नोडल अधिकारी एवं संयुक्त निदेशक सूचना केएस चौहान ने जानकारी दी। उन्होंने बताया कि उत्तराखंड की झांकी में गुरुद्वारा हेमकुंड साहिब को सबसे आगे दर्शाया जाएगा।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड- इस युवा ने पहाड़ का नाम किया रोशन, राष्ट्रीय युवा पुरस्कार के लिए चयनित

बता दें उत्तराखंड राज्य बनने के बाद से अब तक 13 बार राजपथ पर देवभूमि की झांकी को प्रदर्शित किया गया है। साल 2003 में सबसे पहले फूलदेई की झांकी को परेड में शामिल किया गया था। इसके बाद आने वाले सालों में नंदा राजजात यात्रा, फूलों की घाटी, कॉर्बेट नेशनल पार्क, साहसिक पर्यटन, कुंभ मेला, जड़ी-बूटी, केदारनाथ धाम पुनर्निर्माण, ग्रामीण पर्यटन, अनासक्ति आश्रम कौसानी, केदारनाथ धाम की झांकी राजपथ पर नजर आईं हैं।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड : हरिद्वार के उत्कर्ष ने पास की संघ लोक सेवा आयोग परीक्षा 2021 , दीजिये बधाई

इस बार भी गणतंत्र दिवस परेड में उत्तराखंड की झांकी आकर्षण का केंद्र रहने वाली है। बता दें कि इन झांकियों को दिल्ली में तैयार किया जाता है। उत्तराखंड ही नहीं बल्कि तमाम राज्यों जैसे उत्तर प्रदेश, हरियाणा, गुजरात, गोवा, अरुणाचल प्रदेश, कर्नाटक आदि की झांकियां भी राजपथ पर देखने को मिलेंगी। चूंकि कोरोना के मामले लगातार बढ़ रहे हैं, इसलिए कोविड गाइडलाइन के अनुसार ही कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

To Top