कुमाऊँ

उत्तराखंड- पहाड़ के इस गांव में अब हर समय सुनाई देगी मोबाइल की घंटी, ग्रामवासियों में खुशी की लहर , बोलो थैंक्यू JIO

Nainital News- पूरा देश डिजिटल हो रहा है। हर किसी के हाथ में मोबाइल है और वह जिंदगी का अभिन्न हिस्सा बन गया है। पिछले 1.5 साल से निजी स्कूलों से लेकर सरकारी स्कूलों में भी पढ़ाई ऑनलाइन माध्यम से हो रही है लेकिन वहां अभी भी कुछ गांव ऐसे हैं जिनका मोबाइल सिगन्ल से कोई नाता नहीं है अगर जहांंंं कहीं है भी वहां बीएसएनएल केेे सिग्नल हमेशा राम भरोसे रहते हैं और लोगों को फोन करने के लिए दूसरे इलाकों में जाना पड़ता है।

विकास खण्ड ओखलकांडा के पतलोट गांव भी कुछ ऐसा ही हाल था । यहां नेटवर्क की हमेशा लो कनेक्टिविटी रहती थी , लेकिन आज वह गावँ नए युग में प्रवेश कर गया है। पतलोट में अब हर बार फोन की घंटी सुनाई देगी। लो नेटवर्क के बीच यह सपना जिओ ने पूरा किया है। जो काम टेलीकॉम क्षेत्र में दशकों से खुद को दिग्गज कहने वाली कंपनियां नहीं कर पाई वो जियो ने करीब पांच साल में ही कर दिखाया है।

जानकारी के अनुसार विकास खण्ड ओखलकांडा के पतलोट डिग्री कॉलेज में मंगलवार से जिओ का नेटवर्क शुरू कर दिया गया है। इसकी हवाई रेंज 1 किमी रखी गयी है। जिसका लाभ महाविद्यालय में अध्ययनरत छात्रों के साथ ही साथ वहां के क्षेत्र के सभी लोगों को भी मिलेगा। मोबाइल टावर लगने व उसकी सुविधा के शुरू होने के बाद गांव वाले काफी खुश हैं। वही ककोड़ जिला पंचायत के कई गांव भी नेटवर्क समस्या ने जूझ रहे हैं जिसमें डालकन्या, कुंडल, अधौरा, मिडार, डूंगरी , लवाड़, डोबा ,हरिश्ताल, गाजा, पद्राणी शामिल है, यहां के ग्रामीणों ने भी जल्द उनके क्षेत्र में मोबाइल टावर लगाने की मांग की है।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top