कुमाऊँ

उत्तराखंड- प्राइमरी स्कूल हो तो ऐसे, देखिए सकारात्मक सोच का नतीजा

सरकारी प्राइमरी स्कूल

Haldwani News- कहते हैं बच्चों की प्राथमिक शिक्षा अगर अच्छे वातावरण में हो तो उनकी नींव उतनी ही मजबूत होती है। इसका जीता जागता उदाहरण है सरकारी प्राइमरी स्कूल, यूं तो प्राइमरी विद्यालयों की दुर्दशा किसी से छिपी नहीं है लेकिन यह सकारात्मक सोच का नतीजा है सरकारी प्राथमिक विद्यालयों की तस्वीर इतनी खूबसूरत भी हो सकती है।

दरअसल यह तस्वीरें नैनीताल विधायक संजीव आर्य के सराहनीय प्रयासों का नतीजा है जिन्होंने दूरस्थ से दूरस्थ क्षेत्रों में भी शिक्षा के स्तर को सुधारने के लिए बजट आवंटित किया है स्थानीय लोगों की मांग पर विधायक संजीव आर्य द्वारा कोटाबाग के अति दूरस्थ ग्रामीण इलाके आमगड़ी, बोहराकोट, परेवा, अमतोली, इलाके में प्राथमिक विद्यालयों में फर्नीचर उपलब्ध कराया गया है जिसके बाद विद्यालयों की तस्वीर बेहद खूबसूरत नजर आ रही है।

विधायक संजीव आर्य के इन प्रयासों के लोग प्रशंसा कर रहे हैं विधायक संजीव आर्य ने लोगों को बधाई देते हुए कहा कि प्राथमिक शिक्षा को और मजबूत बनाना समाज की नींव को मजबूत बनाना है इसलिए वह अपने क्षेत्र में शिक्षा के स्तर को सुधारने के लिए अपने स्तर पर जो प्रयास होगा वह पूरी तन्मयता से करेंगे।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड- देवभूमि की बेटियों को दीजिए बधाई! रच दिया इतिहास, फाइनल में धमाकेदार एंट्री
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

To Top