उत्तराखण्ड

उत्तराखंड- छोटे शहर के युवां ने देखा बड़ा सपना, लगन और मेहनत की 20 वी रेंक लाकर बन गया IAS

काशीपुर- जब छोटी जगहों के बच्चे बड़े सपने देखते हैं तो उन्हें साकार करना आसान नहीं होता। एक सफल जिंदगी के लिए उन्हें ज्यादा कोशिश करनी होती है। क्योंकि सफलता पाने के लिए उनके पास जरूरी संसाधनों की कमी होती है। अपनी मंजिल को पाने के लिए उन्हें कड़ी मेहनत करनी होती है। ऐसी ही मेहनत कर जसपुर के अर्पित चौहान ने मुकाम हासिल किया है । अर्पित चौहान ने सिविल सेवा परीक्षा में क्षेत्र का नाम रोशन करते हुए 20 वां स्थान हासिल किया है।

जसपुर के मोहल्ला चमन बाग कॉलोनी के रहने वाले बलकरण सिंह जसपुर के सूतमिल में प्राइमरी विद्यालय में हेडमास्टर हैं। उनकी पत्नी अनीता चौहान जीजीआईसी जसपुर में अंग्रेजी की अध्यापिका हैं। उनकी छोटे बेटे अर्पित चौहान ने सिविल सेवा परीक्षा 2021 में 20वां स्थान हासिल किया है। अर्पित चौहान ने अपने तीसरे प्रयास में ये सफलता हासिल की है।

.

सफलता पर माता पिता के साथ क्षेत्र के अन्य लोगों ने अर्पित को शुभकामनाएं दी। अर्पित चौहान ने सिविल सेवा परीक्षा में पहला प्रयास 2019 में किया था, तब वह पंतनगर में बीटेक मैकेनिकल इंजीनियरिंग के अंतिम वर्ष की पढ़ाई कर रहे थे। उसके बाद उन्होंने दूसरा प्रयास 2020 में किया। उस वक्त उन्होंने देश में 297वां स्थान प्राप्त किया था। उसके बाद भी उन्होंने हार नहीं मानी। साल 2021 में उन्होंने तीसरा प्रयास किया। जिसमें इस बार उन्होंने 20वां स्थान हासिल किया।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

To Top